अल्लाह के लिए मरने की चाहत रखने वाला सैनिकों के हाथ मारा गया

Killed in the hands of the soldiers who wanted to die for Allah
अल्लाह के लिए मरने की चाहत रखने वाला सैनिकों के हाथ मारा गया

अल्लाह के लिए मरने की चाहत रखने वाला एक महिला सैनिक के हाथ से बंदूक छीनने की कोशिश के दौरान सैनिकों के हाथ मारा गया. फ्रांसीसी सुरक्षा बलों ने पेरिस के ओर्ली एयरपोर्ट पर तैनात एक सैनिक की बंदूक छीनने की कोशिश कर रहे एक व्यक्ति को मार गिराया है.
अधिकारियों के मुताबिक ज़ियेद बेन बेलगासेम नाम के इस शख्स ने एक सुरक्षाकर्मी पर ये कहते हुए हमला किया कि वो ”अल्लाह के लिए मरना” चाहता है.
इससे पहले शनिवार को 39 साल का यह व्यक्ति पेरिस क्षेत्र में हुई गोलीबारी और कार चुराने की घटना में शामिल था.
अभियोजकों ने इसके ख़िलाफ़ जांच शुरू कर दी है. कहा जा रहा है कि बेन बेलगासेम कट्टरपंथ से प्रभावित हो गया था और पुलिस उस पर निगरानी रख रही थी.
फ्रांसीसी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेलगासेम के ख़िलाफ़ आपराधिक मामलों से जुड़े होने का रिकॉर्ड है और सशस्त्र डकैती के मामलों में उसे दोषी भी ठहराया गया था.
हमले की ये घटना एक संवेदनशील समय में हुई है. अगले महीने फ़्रांस में राष्ट्रपति चुनावों की शुरुआत होने जा रही है और देश में आपातकाल भी लागू है.
ओर्ली एयरपोर्ट पर तैनात सैनिक, ऑपरेशन सेंटिनेल का हिस्सा थे. इस ऑपरेशन के तहत जनवरी 2015 में शार्ली एब्दो अख़बार पर हुए हमले और नवंबर 2015 में पेरिस पर हुए हमलों के बाद हज़ारों सैनिकों को पुलिस की मदद के लिए तैनात किया गया है.
घटनाक्रम
शनिवार की सुबह बेन बेलगासेम को उनकी रिहाइश के उत्तरी पेरिस के इलाके में एक नाके पर रोका गया.
रोके जाने पर उसने पुलिस पर पैलेट गन से हमला किया और फिर एक कार में सवार हो फ़रार हो गया. वो कार बाद में लावारिस पड़ी मिली.
पुलिस का कहना है कि उसके बाद दक्षिणी फ़्रांस के विट्री इलाके में एक महिला को बंदूक दिखाकर उनकी कार चुरा ली. ये कार बाद में ओर्ली एयरपोर्ट पर खड़ी मिली.
बेन बेलगासेम हाथ में ईंधन का एक कंटेनर लिए एयरपोर्ट पहुंचा और गश्ती सेना के पास जाकर उसने कहा, “मैं यहां अल्लाह के लिए मरने आया हूं.”
उसके बाद उसने एक महिला सैनिक से हथियार छीनने की कोशिश की जिसके बाद दो अन्य सैनिकों ने उसे गोली मार दी.
उनके पास से एक लाइटर, एक पैकेट सिगरेट, क़ुरान की एक प्रति और साढ़े सात सौ यूरो नकद बरामद हुआ.
बाद में उसके घर की तलाशी लेने पर कोकीन भी बरामद हुई. उसके पिता और भाई को हिरासत में ले लिया गया है जो कि संदिग्ध चरमपंथी हमलों में उठाया जाने वाला एक सामान्य कदम है.
इस घटना के बाद कई विमानों को निलंबित कर दिया गया और कइयों को डाइवर्ट कर दिया गया.
बाद में एयरपोर्ट के दोनों टर्मिनलों को खोल दिया गया.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *