करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास में पाक आर्मी चीफ के साथ दिखाई दिया Khalistan समर्थक आतंकी

करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास में पाक आर्मी चीफ के साथ दिखाई दिया Khalistan समर्थक आतंकी
करतारपुर। पाकिस्तान में करतारपुर साहिब कॉरिडोर की नींव रखने के लिए आयोजित समारोह में आतंकी सरगना हाफिज सईद का करीबी सहयोगी और Khalistan समर्थक गोपाल चावला भी मौजूद था।
यही नहीं, समारोह के दौरान वह पाकिस्तानी सेना प्रमुख बाजवा के साथ हाथ मिलाता हुआ भी नजर आया।
शिलान्यास कार्यक्रम में एक फिल्म दिखाई गई, जिसमें जिन्ना से लेकर नवजोत सिंह सिद्धू के बयानों को दिखाया गया। कार्यक्रम में सिद्धू ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर आगे बढ़ने के लिए इमरान खान की जमकर तारीफ की। कार्यक्रम में पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा भी मौजूद रहे।
पाक सेना प्रमुख के बगल में खड़ा था खालिस्तानी नेता
इस समारोह में खालिस्तानी अलगाववादियों की भी मौजूदगी दिखी। आतंकी सरगना हाफिज सईद का सहयोगी और खालिस्तान समर्थक नेता गोपाल चावला तो पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा के साथ खड़ा दिखा। चावला ने बाजवा से हाथ भी मिलाया। गोपाल चावला अपने भारतविरोधी रुख के वजह से जाना जाता है। लश्कर और जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों से उसका करीबी रिश्ता है।
करतारपुर में ही गुरु नानकजी ने ली थी अंतिम सांस
करतारपुर में ही सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव जी ने अंतिम सांस ली थी। करतारपुर साहिब पाकिस्तान में रावी नदी के पार स्थित है और डेरा बाबा नानक से करीब 4 किलोमीटर दूर है। सिख गुरु ने 1522 में इस गुरुद्वारे की स्थापना की थी। करतारपुर गलियारे से भारतीय सिख श्रद्धालु करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब तक वीजारहित यात्रा कर सकेंगे। इस गलियारे के 6 महीने के भीतर बनकर तैयार होने की उम्मीद है। भारत ने इस गलियारे का प्रस्ताव पाकिस्तान को करीब बीस वर्ष पहले दिया था।
6 महीने में बनकर तैयार हो सकता है कॉरिडोर
पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैसल ने करतारपुर के लिए रवाना होने से पहले बुधवार को इस्लामाबाद में मीडिया से बातचीत में बताया कि अगले वर्ष नवंबर में गुरु नानक देव की 550 जयंती से पहले गलियारे का निर्माण पूरा हो जाएगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »