कंगना के बढ़ते नखरों से परेशान केतन मेहता ने फिल्म रानी लक्ष्मीबाई छोड़ी

Ketan Mehta left the film, worried with growing rumors of Kangana
कंगना के बढ़ते नखरों से परेशान केतन मेहता ने फिल्म रानी लक्ष्मीबाई छोड़ी

कंगना ने रखी थी रानी लक्ष्मीबाई को ‘को-डायरेक्ट’ करने की शर्त

मुंबई। कंगना रनौत के बॉलीवुड में बढ़ते कद का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब वो केतन मेहता जैसे निर्देशकों पर भी दबाव बनाना चाहती हैं लेकिन केतन मेहता ने कंगना के दबाव के आगे झुकने के बजाय खुद को फिल्म से ही अलग कर लिया.

खबर है कि इस फिल्म को कंगना खुद को डायरेक्टर करना चाहती थीं लेकिन ये केतन मेहता को मंजूर नहीं था. दरअसल कंगना केतन मेहता के निर्देशन में झांसी की रानी से जुड़े किरदार ‘मणिकर्णिका’ पर फिल्म बनाना चाहती थी.

कंगना ने मेहता के सामने शर्त रखी कि फिल्म की स्क्रिप्ट में उनका भी योगदान होगा जिसे मेहता ने कुछ शर्तों के साथ मान भी लिया. जैसे ही मेहता ने स्क्रिप्ट पर काम शुरू किया कंगना ने उनके सामने नयी शर्त रख दी जिसके मुताबिक़ वो फिल्म की को-डाइरेक्टर भी होंगी.
कंगना के बढ़ते नखरों से परेशान केतन मेहता ने फिल्म छोड़ना ही बेहतर समझा।

अब इस फिल्म को अक्षय कुमार की फिल्म ‘गब्बर इज बैक’ के निर्देशक कृष डाइरेक्ट करेंगे. फिल्म का टाइटल अब ‘रानी लक्ष्मीबाई’ के बजाय ‘रानी ऑफ झांसी’ होगा। फिल्म की कहानी ‘बाहुबली’ के लेखक के वी विजयेंद्र प्रसाद ने लिखी है.

ख़बरों के मुताबिक़ कंगना अपनी फिल्मों में कुछ ज्यादा ही दखलअंदाजी करने लगी हैं.  ‘रंगून’ के निर्माण के दौरान विशाल भारद्वाज को भी कंगना के ऐसे ही बर्ताव का सामना करना पड़ा था.  देखते हैं निर्देशक कृष ,कंगना के साथ इस प्रोजेक्ट को पूरा कर पाते हैं या नहीं.-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *