भारी बारिश के चलते 4 दिनों के लिए केरल का Cochin airport बंद

कोचीन। भारी बारिश के चलते 4 दिनों के लिए केरल का Cochin airport बंद कर दिया गया है। यह पहली बार है जब Cochin airport को चार दिनों के लिए बंद किया गया है।

केरल में बाढ़ की वजह से एयरपोर्ट के रनवे पर पानी भर गया है। इससे पहले बुधवार सुबह दोपहर दो बजे तक सभी फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया। कई विमानों तिरुवनंतपुरम और कोझिकोड की ओर डायवर्ट कर दिया गया है।

एयरपोर्ट के प्रवक्ता ने बुधवार को कहा ‘विमानों की आवाजाही को रनवे पर पानी पहुंचने की वजह से रोक दिया गया है। कोचीन आने वाले ज्यादातर विमानों को तिरुवनंतपुरम और कोझिकोड की ओर डायवर्ट कर दिया गया है।’

कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पेरियर नदी के पास स्थित है। इसी नदी में ज्यादातर बांधों से पानी आता है जिस वजह पानी का स्तर बढ़ गया। इसके अलावा डैम से अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए मंगलवार रात इदामलायर, इडुक्की और मुलपेरियार बांधों के शटर खोले गए। अभी तक राज्य में कुल 33 बांधों के दरवाजे खोले जा चुके हैं।

केरल में बाढ़ की भयावह स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने सेना और एनडीआरएफ के और जवानों की मांग की है। राज्य के 14 जिलों में से 12 जिलों में इस समय रेड अलर्ट घोषित है।

इसके अलावा बाढ़ के कारण राज्य में ट्रेन सेवा भी बुरी तरह प्रभावित हुई है। कई पुलों व सड़कों को भी नुकसाना पहुंचा है। तिरुवनंतपुरम से कन्याकुमारी तक की रेल सेवा को भी बंद कर दिया गया है। आधिकारिक आंकाड़ों की मानें केरल में बाढ़, भूस्खलन की वजह से अभी तक 40 लोगों की मौत हो चुकी है।

8316 करोड़ का नुकसान

राज्य सरकार ने गृहमंत्री को एक ज्ञापन देकर राष्ट्रीय आपदा सहायता कोष (एनडीआरएफ) से तत्काल 1220 करोड़ रुपये की मदद मांगी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्राथमिक आकलन के मुताबिक, राज्य में वर्षा, बाढ़ और भू-स्खलन से 8316 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। राहत शिविरों में लोगों का अंधकारमय भविष्य : राज्य में बारिश से जुड़ी घटनाओं में हजारों घर ढह गए हैं, हजारों परिवारों के जीवन भर की जमा-पूंजी और महत्वपूर्ण दस्तावेज बह गए हैं और लोग बेबस स्थिति में राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »