राजयोग मुहूर्त में KCR ने ली तेलंगाना के सीएम पद की शपथ

राजभवन में राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन ने KCR को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई

हैदराबाद। तेलंगाना में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद KCR यानि के चंद्रशेखर राव ने आज मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। तेलंगाना राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में पार्टी नेताओं की मौजूदगी में उन्होंने शपथ ली।

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के. चंद्रशेखर राव (KCR) दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने। गुरुवार को राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन ने राजभवन में उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। केसीआर ने लक्ष्मीनरसिम्हा स्वामी मंदिर के पंडितों के कहने पर शपथ के लिए दोपहर 1.25 बजे का वक्त चुना। पंडितों के मुताबिक, इस दौरान राज योग मुहूर्त था।

शपथ ग्रहण समारोह के बाद विधायक दलों की बैठक होगी जहां विधायक केसीआर को अपना नेता चुनेंगे। टीआरएस ने 119 सदस्यीय विधानसभा में 88 सीटों पर जीत दर्ज की है।
केसीआर ने सिद्दीपेट जिले की गजवेल सीट से जीत हासिल की। शपथ समारोह से पहले केसीआर ने मंत्रिमंडल में सभी वर्गों को प्रतिनिधित्व देने की बात कही। तेलंगाना कैबिनेट में अधिकतम 18 सदस्य हो सकते हैं।

इस बार टीआरएस ने राज्य में अकेले ही चुनाव लड़ा था। उनके खिलाफ कांग्रेस-टीडीपी-वामदलों का मजबूत गठबंधन खड़ा था लेकिन केसीआर के तूफान में सभी उड़ गए। इसके अलावा टीआरएस समर्थक असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम ने भी हैदराबाद में जबरदस्त प्रदर्शन किया।

सीएम केसी राव ने समय से 9 महीने पहले ही विधानसभा चुनाव कराने का जो दांव चला था वो पूरी तरह सफल रहा। पार्टी ने प्रचंड बहुमत हासिल करते हुए बाकी दलों को हाशिए पर धकेल दिया।

केसीआर की जीत का फॉर्मूला
माना जा रहा है कि टीआरएस को दोबारा सत्ता में लाने के लिए राज्य में केसीआर की शुरू की गईं योजनाएं काफी अहम रहीं। केसीआर ने पैसा, शादी, मकान और पानी से जुड़ी कई योजनाएं शुरू कीं, जिनका सीधा लाभ वहां की जनता को मिला। केसीआर ने किसानों के लिए प्रति एकड़ 4 हजार रुपए नकद देने की योजना भी चलाई। रबी और खरीफ की फसल मिलाकर किसान को 8000 रुपए तक मिलते हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »