केसी त्यागी ने मुलायम सिंह पर तंज कसा, भाजपा अब पुरानी भाजपा नहीं रही

KC-Tyagi
केसी त्यागी ने मुलायम सिंह पर तंज कसा, भाजपा अब पुरानी भाजपा नहीं रही

नई दिल्‍ली। भाजपा के खिलाफ महागठबंधन के सुझाव को नकार चुके सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव पर जदयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव भाजपा की मौजूदा स्थिति से वाकिफ नहीं हैं। भाजपा अब पुरानी भाजपा नहीं रही। ये 2017 की भाजपा है। त्यागी ने कहा, मुलायम सिंह यादव अब भी बीते पलों में जी रहे हैं।

याद दिला दें कि मैनपुरी में एक कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि समाजवादी पार्टी को किसी भी दल से गठबंधन की कोई जरूरत नहीं हैं। कांग्रेस से गठबंधन का हाल सब देख चुके हैं। मुलायम ने कहा था कि समाजवादी पार्टी किसी से भी अकेले लड़ने और जीतने में सक्षम है।

इससे पहले अखिलेश यादव ने ऐलान किया था कि भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ देश में किसी भी गठबंधन को समाजवादी पार्टी समर्थन करेगी। अखिलेश यादव तो बहुजन समाज पार्टी की मायावती के साथ गठबंधन को लेकर भी काफी सकारात्मक रुख दिखा चुके हैं।

भाजपा को रोकने के लिए वह बसपा से हाथ मिलाने के खिलाफ हैं मुलायम सिंह यादव

गौरतलब है  कि कल मुलायम  सिंह  यादव ने  कहा  था  कि बीजेपी  को  रोकने  के  लिए सपा  को  किसी के  साथ  की  जरूरत  नहीं। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज अखिलेश के कल के बयान को काटते हुए कहा कि भाजपा को रोकने के लिए वह बसपा से हाथ मिलाने के खिलाफ हैं क्‍योंकि सपा इस काम को अकेले करने में सक्षम है।
उत्तर प्रदेश में बीजेपी के हाथों करारी हार के बाद सूबे की पार्टियां नए गठबंधन की संभावनाओं की तलाश कर रही हैं। समाजवादी पार्टी (एसपी) प्रमुख अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की मुखिया मायावती दोनों ही पिछले दिनों कह चुके हैं कि वह बीजेपी को रोकने के लिए किसी के भी साथ आ सकते हैं। उनके इस बयान के बाद कयास लगाए जाने लगे थे कि अखिलेश और मायावती साथ आ सकते हैं लेकिन एसपी के संस्थापक मुलायम सिंह बीजेपी को रोकने के लिए उनके साथ आने के खिलाफ हैं। उनका कहना है कि एसपी अकेले ही समर्थ है।
बीएसपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन पर मुलायम सिंह यादव ने रविवार को इसकी संभावना को सिरे से नकार दिया। उन्होंने मैनपुरी में एक निजी कार्यक्रम में कहा, ‘समाजवादी अकेले सक्षम हैं।’
उन्होंने चुनाव में कांग्रेस के साथ जाने के अखिलेश के फैसले का भी विरोध किया था और कांग्रेस के प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार करने से भी इंकार कर दिया था।
Samajwadi saksham hain akele: Mulayam Singh Yadav in Mainpuri on alliance with BSP, Congress pic.twitter.com/ZyfX0MsOk1
—ANI UP (@ANINewsUP) April 16, 2017
उन्होंने पार्टी की हार का ठीकरा मीडिया पर फोड़ते हुए कहा कि उसने केवल परिवार के झगड़े की ही खबरें दिखाईं। इससे पहले शनिवार को मुलायम ने उन अफवाहों को झूठा करार दिया जिनमें कहा जा रहा था कि शिवपाल यादव नई पार्टी के गठन की तैयारी कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा था कि परिवार में कोई मतभेद नही हैं और सभी मिलकर पार्टी को मजबूत बनाने के लिए मेहनत कर रहे हैं।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *