कश्मीरी पंडितों ने चूमा पीएम मोदी का हाथ, सिखों ने कहा शुक्रिया, वोहरा समुदाय भी मिला

ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात करता अप्रवासी सिख समुदाय
ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात करता अप्रवासी सिख समुदाय

ह्यूस्टन। अमेरिकी दौरे पर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी का भारतीय समुदाय के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। ‘हाउडी मोदी’ इवेंट से पहले सिख समुदाय, कश्मीरी पंडितों और वोहरा समुदाय के लोगों ने पीएम मोदी से मुलाकात की।
सिख समुदाय ने एक तरफ कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर पीएम की तारीफ की तो दूसरी तरफ करतारपुर कॉरिडोर के लिए उन्हें शुक्रिया कहा।
सिख समुदाय के लोगों ने पीएम से मुलाकात के दौरान एक मेमोरैंडम भी सौंपा। इसमें उन्होंने 1984 के सिख विरोधी दंगों, भारतीय संविधान के अनुच्छेद 25 और आनंद मैरिज एक्ट, वीजा और पासपोर्ट जैसे मुद्दों को उठाया है।
इसके अलावा दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नाम बदलकर गुरु नानक देव इंटरनेशनल एयरपोर्ट करने की मांग रखी है।
कैलिफोर्निया, अर्विन के मौजूदा कमिश्नर अरविंद चावला ने कहा, ‘हमने मोदी जी को एक मेमोरैंडम सौंपा है। मोदी जी ने सिख समुदाय के लिए जो कुछ किया है उसके लिए उन्हें धन्यवाद कहा है। हमने करतारपुर कॉरिडोर के लिए आभार जताया। हाउडी मोदी शो में डॉनल्ड ट्रंप भी आ रहे हैं। यह दिखाता है कि मोदी जी कितने महत्वपूर्ण नेता हैं।’
इस दौरान पीएम मोदी ने वोहरा समुदाय के लोगों से भी मुलाकात की।
कश्मीरी पंडित ने चूमा हाथ
पीएम नरेंद्र मोदी ने कश्मीरी पंडितों के एक प्रतिनिधिमंडल से भी मुलाकात की। इस दौरान कश्मीरी पंडित काफी भावुक नजर आए। कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी किए जाने से खुश एक सदस्य ने पीएम मोदी के हाथ को चूमकर कहा, ‘7 लाख कश्मीरी पंडितों की ओर से आपको धन्यवाद।’ पीएम ने उनका हालचाल पूछने के बाद कहा, ‘आप लोगों ने जो कष्ट झेला है वह कम नहीं है।’ इस दौरान कश्मीरी पंडितों ने ‘नमस्ते शारदा देवी’ श्लोक पढ़ा, इसके अंत में पीएम ने कहा, अगेन नमो नम: इसके बाद सभी ठहाका मारकर हंसने लगे।
तेल क्षेत्र की कई कंपनियों के सीईओ से मिले
प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका की एनर्जी सिटी कहे जाने वाले ह्यूस्टन में आज तेल क्षेत्र की कई कंपनियों के सीईओ से मिले। ऊर्जा के क्षेत्र में भारत और अमेरिका के बीच सहयोग को विस्तार देने के उद्देश्य से हुई इस बैठक के बाद भारतीय कंपनी पेट्रोनेट और अमेरिकी कंपनी टेल्यूरियन के बीच अहम समझौते की घोषणा हुई।
इसके तहत PLL अमेरिका से सालाना 50 लाख टन लिक्विफाइड नेचुरल गैस (एलएनजी) का आयात करेगी। इस समझौते से भारत को कम कीमत पर स्वच्छ ईंधन की आपूर्ति होगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »