करुणानिधि की तबियत बिगड़ी, मोदी और राहुल ने की स्टालिन से बात

चेन्नै। तमिलनाडु के पूर्व सीएम और डीएमके के वयोवृद्ध नेता के. करुणानिधि की तबियत बिगड़ने के बाद उनके घर पर सियासी नेताओं का तांता लगा हुआ है। पेशाब की नली में इंफेक्शन के कारण करुणानिधि के घर पर ही उनका इलाज किया जा रहा है। इसी क्रम में शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य सियासी दल के नेताओं ने करुणानिधि के बेटे स्टालिन से बात कर उनके कुशल स्वास्थ्य की कामना की है।
वहीं करुणानिधि के खराब स्वास्थ्य के बीच स्टालिन ने पार्टी कार्यकर्ताओं से ट्वीट करते हुए लिखा है कि करुणानिधि ने जीवन में तमाम व्यवधानों को पार कर एक योद्धा के रूप में काम किया है और डीएमके के कार्यकर्ताओं को भी उस रास्ते का अनुसरण करना होगा।
बुधवार को ओ. पन्नीरसेल्वम के अलावा राजनेता कमल हासन भी करुणानिधि से मिलने जा चुके हैं। वहीं उनकी तबियत पर चिंता जताते हुए पीएम मोदी ने करुणानिधि के बेटे स्टालिन और बेटी कनिमोझी से बात की है। पीएम ने अपने ट्वीट में इसकी जानकारी देते हुए लिखा, ‘मैंने स्टालिन और कनिमोझी जी से के. करुणानिधि जी की सेहत के बारे में बात की है और उन्हें हर संभव मदद देने का भरोसा भी दिया है। मैं उनके स्वास्थ्य के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।’
बता दें कि करुणानिधि बीते कई दिनों से पेशाब की नली में इंफेक्शन के कारण बीमार हैं और पूर्व में कई अन्य नेताओं ने भी उनका हालचाल जानने के लिए उनसे मुलाकात की थी। पन्नीरसेल्वम के अलावा शुक्रवार को डीएमके से निष्कासित नेता एम के अलागिरी भी करुणानिधि का हाल जानने उनके घर पहुंचे हैं। अलागिरी ने गोपालापुरम स्थित करुणानिधि के घर पर उनके बेटे स्टालिन से मुलाकात की है।
जल्द स्वस्थ हो जाएंगे करुणानिधि: डी. जयकुमार
इसी क्रम में बुधवार को एआईडीएमके के नेता डेप्युटी सीएम पन्नीरसेल्वम के साथ करुणानिधि के घर पहुंचे और फिर उनसे मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य के जल्द ठीक होने की कामना की। पन्नीरसेल्वम और डीएमके प्रमुख की इस मुलाकात के दौरान राज्य के मंत्री डी. जयकुमार ने कहा कि यह सिर्फ एक शिष्टाचार भेंट थी और एआईडीएमके का प्रतिनिधिमंडल करुणानिधि से मुलाकात करने आया था। जयकुमार ने यह भी कहा कि करुणानिधि की सेहत में सुधार हो रहा है और वह जल्द ही स्वस्थ होकर लोगों के बीच लौटेंगे।
डीएमके के कई वरिष्ठ नेता भी रहे मौजूद
वहीं एआईडीएमके के नेताओं की इस मुलाकात के दौरान डीएमके के वरिष्ठ नेता टीआर बालू और दुरुईमुरुगन भी प्रतिनिधिमंडल के साथ मौजूद रहे। बता दें कि इससे पहले एआईडीएमके की नेता जयललिता के भी चैन्नै के अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती रहने के दौरान डीएमके के तमाम नेता उनका हालचाल जानने पहुंचे थे। इस दौरान डीएमके ने भी इसे एक राजनीतिक शिष्टाचार भेंट बताया था।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »