कुछ शर्तों के साथ Karti Chidambaram को मिली विदेश यात्रा की अनुमति

नई दिल्ली। आज सुप्रीम कोर्ट ने Karti Chidambaram को विदेश यात्रा की अनुमति देते हुए हिदायत दी कि वे कोर्ट द्वारा प्रस्‍थापित शर्तों का उल्‍लंघन नहीं करेंगे।

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के पुत्र Karti Chidambaram ने 23 से 31 जुलाई तक ब्रिटेन, फ्रांस और अमेरिका की यात्रा की अनुमति सुप्रीम कोर्ट से मांगी थी। न्यायालय ने स्पष्ट किया कि उन्हें उन्हीं शर्तों का पालन करना होगा जो पहले के आदेश में लगायी गयी थीं। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनंजय वाई चंद्रचूड़ की खंडपीठ ने कार्ति की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी के इस कथन पर विचार किया कि वह व्यक्तिगत कारणों से इन देशों की यात्रा चाहते हैं और उन्हें कुछ शर्तों के साथ इसकी अनुमति दी जाए।

पीठ ने कहा कि कार्ति को विदेश से लौटने पर अपना पासपोर्ट प्रवर्तन निदेशालय के पास जमा कराना होगा. कार्ति एयरसेल – मैक्सिस सौदा, आइएनएक्स मीडिया और धनशोधन जैसे मामलों में कार्यवाही का सामना कर रहे हैं। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि न्यायालय द्वारा कार्ति की पहले की यात्राओं में लगायी गयी शर्तें प्रभावी रहने दी जानी चाहिए. पीठ ने यह अनुरोध स्वीकार कर लिया।

इससे पहले, न्यायालय ने कार्ति को कुछ शर्तों के साथ विदेश जाने की अनुमति दी थी। इसमें यह शर्त भी थी कि वह विदेश में कोई भी बैंक खाता खोलेंगे या बंद नहीं करेंगे।

कार्ति के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय और जांच ब्यूरो कई मामलों की जांच कर रहा है। इनमें से एक आइएनएक्स मीडिया को विदेश से 305 करोड़ रुपए का निवेश प्राप्त करने के लिए विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड की मंजूरी से संबंधित मामला भी शामिल है। यह मंजूरी उस समय दी गयी थी जब उनके पिता पी चिदंबरम केंद्र में वित्त मंत्री थे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »