कर्नाटक चुनाव: फर्जी वोटर कार्ड मामले में चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस

बेंगलुरु। कर्नाटक में फर्जी वोटर कार्ड मिलने से जुड़े मामले के बाद बुधवार को कांग्रेस चुनाव आयोग के पास पहुंची। कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी हार के डर की वजह से चुनावों को न सिर्फ प्रभावित करना चाहती है, बल्कि कई सीटों पर इसे टालने की कोशिश में लगी है।
कांग्रेस ने चुनाव आयोग से निष्पक्ष जांच की मांग के साथ ही बीजेपी द्वारा राज्य में चुनाव प्रचार में हो रहे खर्च की जांच करने को कहा है।
कांग्रेस ने आरोप लगाया कि बीजेपी केंद्र में अपनी सरकार होने के चलते एजेंसियों और अपने अधिकारों का दुरुपयोग कर रही है।
कांग्रेस ने दावा किया कि जिस फ्लैट में फर्जी वोटर आईडी कार्ड मिले हैं, उसकी मालकिन मंजुला नंजामुरी बीजेपी की पूर्व निगम पार्षद हैं और उन्होंने अपने गोद लिए बेटे राकेश को इसे किराए पर दे रखा है।
कांग्रेस की ओर से आनंद शर्मा चुनाव आयोग के पास शिकायत लेकर पहुंचे। इसके बाद बाहर निकलकर उन्होंने मीडिया से बात की और अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा, ‘बीती रात जो छापा मारा गया वह भी बीजेपी के लोगों द्वारा ही मारा गया, उनमें न आयोग शामिल था न ही पुलिस। छापा मारने वालों में भी बीजेपी के लोग शामिल हैं।’
आनंद शर्मा ने कहा, ‘सिर्फ एक जगह नहीं, कई जगह यह खेल चल रहा है। बीजेपी कई तरह से साजिश रच रही है और एजेंसियों की मदद से चुनाव टालने की कोशिश में भी लगी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब एक्सपोज हो गए हैं और उनकी विश्वसनीयता खत्म हो चुकी है। लोग चाहते हैं कि वह मुद्दों पर जवाब दें और वह लगातार झूठ बोलते जा रहे हैं।’
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘हमने चुनाव आयोग को यह सारी बातें बताई हैं और कहा है कि इस मामले की ढंग से जांच की जाए। इसके अलावा बीजेपी के बड़े नेता प्रचार के लिए आ रहे हैं और इसकी जांच भी करनी चाहिए कि बीजेपी की ओर से कितना खर्च किया गया है?’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘आयकर विभाग नामांकने के बाद से ही कांग्रेस नेताओं के खिलाफ रेड कर रहा है जबकि एक भी रेड या कार्यवाही बीजेपी नेता या उम्मीदवार के खिलाफ नहीं हुई है।’ कांग्रेस ने आयोग से निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने को कहा है।
क्या है मामला
विधानसभा चुनाव से दिन पहले मिले इन वोटर आईडी कार्ड का बवाल इतना बढ़ा राज्य चुनाव आयोग को आधी रात को प्रेस कॉन्फ्रेंस करनी पड़ी। मुख्य चुनाव अधिकारी ने फ्लैट से जब्त 9,746 वोटर आईडी के बारे में जानकारी दी। ठीक उसी वक्त बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर कई आरोप लगाए और आर. आर. नगर सीट पर चुनाव रद्द कराने की मांग की। इसके कुछ देर बाद ही दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी को ही कटघरे में घेरा। इस दौरान उन्होंने उस फ्लैट का विडियो भी दिखाया जिसमें वोटर आईडी कार्ड जब्त किए गए थे और बताने की कोशिश की है कि किस तरह इसमें बीजेपी के ही लोग शामिल हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »