कर्नाटक कांग्रेस विधायक Shivaram Hebbar का खुलासा- पत्नी को नहीं आया BJP से कोई फोन, फर्जी टेप जारी किया गया

बैंगलुरु। कर्नाटक में येल्लापुर से कांग्रेस के MLA Shivaram Hebbar ने यह कहकर सभी को चौंका दिया है कि उनकी पत्नी को बीजेपी से किसी की कॉल नहीं आई थी।

कर्नाटक में चल रही उठापटक की राजनीति के बीच येल्लापुर से कांग्रेस के MLA शिवराम हेब्बर ने यह कहकर सभी को चौंका दिया है कि उनकी पत्नी को बीजेपी से किसी की कॉल नहीं आई थी। कांग्रेस ने जो ऑडियो टेप जारी किया था, वह फर्जी है। शिवराम हेब्बर ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखकर यह दावा किया है और कांग्रेस के उन दावों को झुठला दिया है, जिसमें वह कह रही थी कि बीजेपी बहुमत परीक्षण से पहले उनके विधायकों से संपर्क करने का प्रयास कर रही थी।

ಮಾನ್ಯರೇಇವತ್ತು ನ್ಯೂಸ್ ಚಾನಲ್ ಗಳಲ್ಲಿ ನನ್ನ ಪತ್ನಿಯೊಂದಿಗೆ ಬಿಜೆಪಿಯವರು ನಡೆಸಿದ್ದಾರೆ ಎನ್ನುವ ಟೇಪ್ ಬಿಡುಗಡೆ ವಿಷಯ, ಸದನದಲ್ಲಿದ್ದ ನನಗೆ…

Posted by Shivaram Hebbar on Saturday, May 19, 2018

अपनी पोस्ट में Shivaram Hebbar ने लिखा है कि, ‘मुझे देरी से पता चला कि न्यूज चैनलों में मेरी पत्नी और बीजेपी के लोगों के बीच संदेहास्पद बातचीत की चर्चा है। यह मेरी पत्नी की आवाज नहीं है। मेरी पत्नी ने कोई फोन रिसीव नहीं किया था। जिसने भी यह टेप रिलीज किया है उसपर ‘धिक्कार’ है। ऑडियो टेप फर्जी है और मैं इसकी निंदा करता हूं’। शिवराम हेब्बर ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा है कि, ‘मैं अपने क्षेत्र के लोगों को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे दोबारा मौका दिया। मैं उनके लिए काम करता रहूंगा’।

गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 104 सीटें मिली थीं। वहीं कांग्रेस के खाते में 78 और जेडीएस के खाते में 38 सीटें गई थीं. जबकि 2 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे। बहुमत के लिए जरूरी 112 सीटों तक कोई भी पार्टी नहीं पहुंच पाई थी। इसके बाद राज्यपाल ने बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा को सरकार बनाने और बहुमत साबित करने को कहा था। इसके लिए 15 दिन का वक्त दिया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट इसे घटा दिया था।
इस बीच बहुमत साबित करने के लिए जोड़तोड़ की खबरें आती रहीं। कांग्रेस और जेडीएस ने दावा किया कि बीजेपी उनके विधायकों को तोड़ने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस ने दो ऑडियो टेप भी जारी किये हालांकि बहुमत परीक्षण यानी फ्लोर टेस्ट से पहले ही येदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया था। अब कांग्रेस और जेडीएस मिलकर कर्नाटक में सरकार बनाने की तैयारी में हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »