नाराज़ करन जौहर का मामी फिल्म फेस्टिवल के बोर्ड से इस्तीफा

मुंबई। करन जौहर ने मुंबई एकेडमी ऑफ मूविंग इमेज यानी मामी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। वे इस फिल्म फेस्टिवल के बोर्ड के सदस्य थे। सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के बाद से फिल्ममेकर पर लगातार नेपोटिज्म यानी भाई -भतीजावाद को बढ़ावा देने का आरोप लग रहा था।

डायरेक्टर स्मृति किरण को इस्तीफा मेल किया

रिपोर्ट्स की मानें तो आरोपों से परेशान होकर करन ने मामी की डायरेक्टर स्मृति किरण को इस्तीफा मेल किया है। कहा यह भी जा रहा है कि फेस्टिवल की चेयर पर्सन और दीपिका पादुकोण ने करन को मनाने की पूरी कोशिश की थी लेकिन वे नहीं मानें। मामी के बोर्ड में विक्रमादित्य मोटवाने, सिद्धार्थ रॉय कपूर, दीपिका पादुकोण, जोया अख्तर और कबीर खान शामिल हैं।

क्या बॉलीवुड सेलेब्स से नाराज हैं करन?

कुछ रिपोर्ट्स में यह दावा किया जा रहा है कि करन बॉलीवुड सेलेब्स से भी नाराज हैं। क्योंकि एक ओर जहां उन पर लगातार नेपोटिज्म को बढ़ावा देने के आरोप लग रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर कोई भी सेलिब्रिटी उनके साथ खड़ा नहीं हुआ।

खुद को लो प्रोफाइल रख रहे करन

करन जौहर पिछले कुछ दिनों से खुद को लो प्रोफाइल रख रहे हैं। उन्होंने ट्विटर पर 8 लोगों (अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, शाहरुख खान, नरेंद्र मोदी और 4 ऑफिस मेंबर्स) को छोड़कर सभी को अनफॉलो कर दिया है। साथ ही आम लोगों के लिए इंस्टाग्राम का कमेंट सेक्शन भी लॉक कर दिया है।

करन को मिला शत्रुघ्न का सपोर्ट

नेपोटिज्म के मुद्दे पर शत्रुघ्न सिन्हा ने करन जौहर का समर्थन किया है। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि करन को अकारण ही टार्गेट किया जा रहा है। उनके मुताबिक, आलिया को करन ने लॉन्च किया है। लेकिन वे कोई उनकी रिश्तेदार नहीं हैं। इसलिए इसमें नेपोटिज्म जैसी कोई बात नहीं है।

शत्रुघ्न ने सुशांत को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उन्होंने इतना बड़ा कदम क्यों उठाया, यह तो सिर्फ भगवान ही जानता होगा। उनके निधन के बाद से बेवजह ही कुछ लोग इस मामले को खींच रहे हैं। शत्रुघ्न के मुताबिक, सुशांत के ऐसे दोस्त भी अचानक सामने आ रहे हैं, जो उनसे कभी मिले तक नहीं हैं। यह गलत है और इसे बंद होना चाहिए।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *