कपिल देव ने अपने बारे में फैली अफवाह के बाद वीडियो पोस्‍ट किया

पूर्व क्रिकेटर और भारतीय कप्तान कपिल देव अपनी सेहत को लेकर कई दिनों से चर्चा में बने हुए हैं लेकिन सोमवार को सोशल मीडिया पर उनकी सेहत को लेकर कुछ अफ़वाहें फैलनी शुरू हुईं तो कपिल देव ने ख़ुद अपना एक वीडियो जारी किया.
21 सेकेंड के इस वीडियो में वो चुस्त और तंदुरुस्त नज़र आ रहे हैं और कह रहे हैं कि वो सेहतमंद हैं.
दरअसल, भारत को पहला विश्व कप जिताने वाले कप्तान कपिल देव की बीते 23 अक्टूबर को सफल इमरजेंसी कोरोनरी-एंजियोप्लास्टी हुई थी. दो दिन बाद 25 अक्टूबर को उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी लेकिन सोमवार को सोशल मीडिया पर ऐसी अफ़वाह फैली कि 61 वर्षीय कपिल देव को फिर से अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. कुछ में तो यहां तक कहा गया कि कपिल देव का निधन हो गया है.
लेकिन सोमवार शाम होते-होते कपिल का एक वीडियो सामने आया. जिसमें उन्होंने बैंगनी रंग का मैचिंग कोट और ट्राउज़र पहना हुआ है.
वीडियो में वो मुस्कुराहट के साथ कह रहे हैं, “मौसम सुहाना है, दिलकश ज़माना है. बहुत दिल कर रहा है आप सब से मिलने का. बहुत अच्छा फ़ील कर रहा हूं. एक बार फिर आपकी दुआओं और आपकी फिक्र के लिए धन्यवाद. उम्मीद करते हैं कि जल्दी से जल्दी मिलेंगे. पता नहीं मूवी कब रिलीज़ होगी, लेकिन हम कोशिश करेंगे जल्दी से जल्दी मिलने की. ये साल का अंत आने को है. लेकिन शुरुआत और भी बेहतर होगी. लव यू ऑल.”
उनके साथी क्रिकेटर मदन लाल ने ट्वीट कर उनकी सेहत को लेकर अफ़वाहों पर नाराज़गी जताई और कहा, “मेरे साथी की सेहत को लेकर अटकलें असंवेदनशील और ग़ैर-ज़िम्मेदाराना हैं. हमारे दोस्त, कपिल देव स्वस्थ हैं और तेज़ी से रिकवर कर रहे हैं. ऐसे समय में जब परिवार उनके अस्पताल में भर्ती होने के कारण तनाव में है, हमें संवेदनशील रहना चाहिए.”
कपिल देव को क्या हुआ था
23 अक्टूबर को रात एक बजे सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें दिल्ली के फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट के आपातकालीन विभाग में भर्ती कराया गया था. रात में ही उनकी जाँच की गई और मध्य रात्रि में ही एक इमरजेंसी कोरोनरी-एंजियोप्लास्टी भी की गई.
फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट की ओर से बयान जारी कर कहा गया था कि 61 वर्षीय पूर्व क्रिकेट कप्तान कपिल देव को 23 अक्टूबर की मध्य रात्रि क़रीब एक बजे फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट के डिपार्टमेंट में लाया गया. उन्हें सीने में दर्द की शिकायत थी. कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के निदेशक डॉ. अतुल माथुर ने मध्यरात्रि में उनकी जाँच की और जाँच के बाद उनकी एंजियोप्लास्टी की.
23 अक्टूबर को ही कपिल ने अपने ट्विटर पर एक संदेश साझा कर फैंस को दुआओं के लिए शुक्रिया कहा था और कहा था कि वो ठीक हो रहे हैं.
सोशल मीडिया पर पहले भी फैली हैं ऐसी अफ़वाहें
सोशल मीडिया के इस ज़माने में ऐसी अफ़वाहें अक्सर देखी जाती हैं. किसी सेलिब्रिटी की सेहत को लेकर कई तरह की अटकलें लगा दी जाती हैं, जो बाद में ग़लत निकलती हैं.
जैसे 2017 में एक बार अभिनेत्री फ़रीदा जलाल की मृत्यु की अफ़वाह ट्रेंड होने लगी थी.
अपने मरने की ख़बर पर फरीदा जलाल ने एक अख़बार को दिए इंटरव्यू में कहा था, “पहले तो मुझे लगा कि ये मज़ाक है, तो मैंने इस बात को तूल नहीं दिया लेकिन फिर मेरा मोबाइल लगातार बजने लगा और मैं इस सबसे खीझ उठी. मैं ज़िंदा हूँ, ये अफवाह ना फैलाएं’.
फरीदा जलाल ने अफ़वाहों का खंडन करते हुए ट्विटर पर भी लिखा था कि वो ज़िंदा हैं.
ऐसे और भी किस्से हैं जहाँ बॉलीवुड के कई चर्चित कलाकारों की मौत की ख़बर सोशल मीडिया पर आई है.
अमिताभ बच्चन की तबीयत ख़राब होते ही झूठी ख़बरें सोशल मीडिया के ज़रिये फैलने लगती हैं. ये तस्वीर अमिताभ बच्चन की एक फ़िल्म शूट की है जहाँ वो मरने की एक्टिंग कर रहे हैं.
कुछ साल पहले ये तस्वीर पहले व्हाट्सऐप पर आई, जिसके बाद ट्विटर पर हंगामा हो गया.
वहीं रैप गायक हनी सिंह जब कुछ समय तक संगीत से दूर हुए तो अफवाह फैली कि हनी सिंह चल बसे हैं. हनी सिंह की मृत्यु की वजह एक्सीडेंट बताया जा रहा था लेकिन फिर हनी सिंह ने ट्विटर पर लिखा कि ‘ये सब अफ़वाह है, जो मुझसे नफ़रत करने वाले फैला रहे हैं.’
ऐसे ही दिलीप कुमार, लता मंगेशकर, आशा पारेख और माधुरी दीक्षित के मारने की अफ़वाहें सोशल मीडिया पर आती रही है.
ये ना केवल हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में, बल्कि हॉलीवुड में भी कई सेलेब्रिटीज़ के साथ हुआ है. जिनमे जॉनी डेप, आर्नॉल्ड श्वार्ज़नेगर और लेडी गागा के नाम शामिल हैं.
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *