कानपुर टेस्ट: चौथा दिन… दूसरी पारी, न्यूजीलैंड को मिला 284 रनों का लक्ष्य

भारतीय टीम ने कानपुर टेस्ट के चौथे दिन दूसरी पारी 7 विकेट के नुकसान पर 234 रनों के स्कोर पर घोषित कर दी। इस तरह न्यूजीलैंड को जीत के लिए 284 रनों का मुश्किल लक्ष्य मिला है। भारत ने पहली पारी में सभी विकेट खोकर 345 रन बनाए थे जबकि न्यूजीलैंड की पहली पारी 296 रनों पर सिमटी थी। पदार्पण टेस्ट की पहली पारी में शतक जड़ने के बाद श्रेयस अय्यर ने दूसरी पारी में बेहद दबाव के बीच अर्धशतक जड़ा जबकि गर्दन में दर्द के बावजूद बैटिंग करने उतरे रिद्धिमान साहा ने बेजोड़ हाफ सेंचुरी लगाई।
जवाब में बैटिंग करने उतरी कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसे रविचंद्रन अश्विन ने पहली पारी में हाफ सेंचुरी जड़ने वाले विल यंग को महज 2 रनों पर चलता कर दिया। इसके अगले ही ओवर में स्टंप्स की भी घोषणा हो गई। न्यूजीलैंड का स्कोर 1 विकेट पर 4 रन है, जबकि उसे 280 रनों की जरूरत है। दूसरी ओर, भारतीय टीम को जीत के लिए 9 विकेट चाहिए।
अय्यर (125 गेंद में 65 रन, आठ चौके, एक छक्का) ने रविचंद्रन अश्विन (32) के साथ छठे विकेट के लिए 52 जबकि रिद्धिमान साहा (126 गेंद, 4 चौके और एक छक्का, नाबाद 61) के साथ सातवें विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी की। इससे पहले सुबह के सत्र में कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे और उप कप्तान चेतेश्वर पुजारा ने एक बार फिर निराश किया जिससे भारत 51 रन पर पांच विकेट गंवाकर संकट में था। अय्यर ने हालांकि पहले अश्विन और फिर साहा के साथ अर्धशतकीय साझेदारी करके भारत को संभाला। उन्होंने ऑफ स्पिनर विलियम समरविले पर छक्का जड़ा लेकिन उनका सर्वश्रेष्ठ शॉट बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल पर लॉफ्टेड ड्राइव से चौका बटोरना रहा।
अय्यर हालांकि चाय के विश्राम से पहले की टिम साउथी (48 रन पर तीन विकेट) की अंतिम गेंद पर विकेट टॉम ब्लंडेल को कैच दे बैठे। साउथी की लेग साइड से बाहर जाती गेंद उनके ग्लव्स को चूमती हुई विकेटकीपर के हाथों में चली गई। पिच पर खेलना असंभव नहीं है लेकिन माना जा रहा है कि भारतीय स्पिनर 200 के आसपास के स्कोर का बचाव करने में सक्षम हो सकते हैं क्योंकि भले ही गेंद काफी टर्न नहीं हो रही हों लेकिन उम्मीद है कि काफी गेंद नीची रहेंगी।
चौथी सुबह भारतीय बल्लेबाजों को साउथी ने अपनी स्विंग से सबसे अधिक परेशान किया। उन्हें साथी तेज गेंदबाज काइल जैमीसन (28 रन पर तीन विकेट) का अच्छा साथ मिला। जैमीसन ने पुजारा (22) की पसलियों को निशाना बनाया। निर्जीव पिच पर जैमीसन की उछाल लेती गेंद पुजारा के ग्लव्स को छूकर ब्लंडेल के दस्तानों में समा गई। मैदानी अंपायर ने उन्हें नॉटआउट दिया लेकिन डीआरएस लेने पर पुजारा को वापस लौटना पड़ा।
खराब फॉर्म से जूझ रहे रहाणे एक चौके की मदद से 15 गेंद में चार रन बनाने के बाद बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल (29 रन पर एक विकेट) की गेंद पर पगबाधा हो गए। सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (17) ने पहले घंटे में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का डटकर सामना किया लेकिन साउथी ने आउटस्विंग होती गेंद पर उन्हें दूसरी स्लिप में टॉम लैथम के हाथों कैच करा दिया। साउथी ने इसी ओवर में रविंद्र जडेजा को पगबाधा करके भारत को दोहरा झटका दिया। जडेजा खाता भी नहीं खोल पाए।
इस समय भारत का स्कोर पांच विकेट पर 51 रन था। अश्विन इसके बाद अय्यर का साथ देने उतरे और उन्होंने साउथी पर सीधा चौका जड़ने के अलावा कुछ आकर्षक शॉट खेलकर टीम पर बने दबाव को कुछ कम किया। दोनों ने भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया लेकिन इसके बाद अश्विन जैमीसन की उछाल लेती गेंद को विकेट पर खेल गए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *