‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ पर सवाल पूछते ही गुस्‍से से उबल पड़े कन्‍हैया कुमार

नई दिल्‍ली। नए नवेले कांग्रेसी बने कन्हैया कुमार आजकल बीजेपी को ‘टुकड़े-टुकड़े’ करने की धमकी दे रहे हैं। दरअसल, बीजेपी उन पर आरोप लगाती रही है कि वो ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के सरगना हैं। सवाल पूछते ही कन्हैया हत्थे उखड़ गए और कहा कि मैं भाजपा के टुकड़े-टुकड़े करूंगा।
कन्हैया की जुबान पहले से ज्यादा तीखा
लेफ्ट से सेंटर में आए कन्हैया कुमार ने बीजेपी के खिलाफ अपनी जुबान को और तीखा कर लिया है। दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में कथित देश विरोधी नारे लगाने के आरोप में उन पर देशद्रोह का केस चल रहा है। इल्जाम है कि उन्होंने JNU में भारत विरोधी नारे लगाए थे। बाद में बीजेपी ने ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ करार दिया। नारेबाजी को लेकर अक्सर कन्हैया कुमार से सवाल पूछा जाता है और बार-बार वो सफाई देते हैं।
हम भाजपा का टुकड़ा करेंगे: कन्हैया
कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने एनडीटीवी से बातचीत में ‘टुकड़े-टुकड़े’ नारे को लेकर एक बार फिर सफाई दी। उन्होंने कहा कि ‘हां…हूं टुकड़ा-टुकड़ा, किसका टुकड़ा-टुकड़ा करूंगा…तुम (बीजेपी) आरोप लगा रहे हो न तुम्हारा (बीजेपी) टुकड़ा करूंगा, और तुम (बीजेपी) देश नहीं हो। भाजपा कह रही है टुकड़ा-टुकड़ा गैंग तो भाजपा के लिए टुकड़ा-टुकड़ा हूं, भाजपा का टुकड़ा-टुकड़ा करूंगा। भाजपा मुझे टुकड़ा-टुकड़ा का सरगना कहती है और हम भाजपा का टुकड़ा करेंगे।’
कन्हैया पर देश विरोधी नारे के आरोप
बिहार के बेगूसराय से कन्हैया कुमार की ताल्लुक है। 2015 में कन्हैया कुमार JNU छात्रसंघ के अध्यक्ष बने थे। JNU में लगे कथित देश विरोधी नारों के बाद अचानक सुर्खियों में आ गए थे। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने बेगूसराय से किस्मत भी आजमाई थी। वहां से बीजेपी के गिरिराज सिंह से हार गए थे। 4 लाख 22 हजार वोट के बड़े अंतर से हराया। बेगूसराय में भूमिहार जाति के मतदाताओं की संख्या सबसे ज्यादा है और कन्हैया कुमार भी भूमिहार हैं। कांग्रेस को बिहार में नए चेहरे की जरुरत है। कांग्रेस को लगता है कि छात्र नेता के तौर पर कन्हैया को संगठन का अनुभव है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *