कैलाश मानसरोवर यात्रा आठ जून से

Kailash Mansarovar Yatra from 8th June
कैलाश मानसरोवर यात्रा आठ जून से

इस वर्ष कैलाश मानसरोवर यात्रा आठ जून से आठ सितंबर तक चलेगी। 18 दलों के माध्यम से 1080 यात्री कैलाश मानसरोवर जाएंगे। पहला दल 12 जून को दिल्ली से चलेगा और 13 जून को आधार शिविर धारचूला पहुंचेगा।
कैलाश मानसरोवर यात्रा दल दिल्ली से काठगोदाम होते हुए अल्मोड़ा पहुंचेंगे। दूसरे दिन चौकोड़ी डीडीहाट होते हुए धारचूला पहुचेंगे। धारचूला से 54 किमी दूर नारायण आश्रम तक वाहन से जाने के बाद पैदल यात्रा शुरू होगी।
यात्रा का पहला पैदल पड़ाव सिर्खा, दूसरा पड़ाव गाला, तीसरा पड़ाव बूंदी, चौथा पड़ाव गूंजी और अंतिम पड़ाव नाविढाग होगा। गूंजी में यात्री एक दिन विश्राम करेंगे। जहा पर यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण होगा। इसमें सफल यात्री आगे की यात्रा कर पाएंगे।
इस वर्ष हर पड़ाव में शिकायत पंजिका रहेगी। इसमें यात्री शिकायत और सुझाव दर्ज करेंगे। यात्रा दल के साथ सुरक्षा कर्मी चिकित्सा टीम वायरलेस टीम और आईटीबीपी जवान रहेंगे।
उच्च हिमालय में संचार के लिए डीएसबीटी फोन सेट लगेंगे। 10000 फिट की ऊंचाई गूंजी में पुलिस थाना और बूंदी में पुलिस चौकी खुलेगी। यात्रा मार्ग में आपदा से निबटने के लिया तीन स्थानों धारचूला पांगला और बूंदी में एसडीआरएफ की टीम तैनात रहेगी। यात्रा का अंतिम 18 वा दल यात्रा पूरी कर 8 सितम्बर को दिल्ली लौटेगा और इसी के साथ यात्रा सम्पन्न होगी।
डीएम सी रविशंकर ने यात्रा की तैयारियों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में अधिकारियो यात्रा संचालक केएमवीएन को 15 मई तक सभी तैयारियां पूरी करने को कहा है। 15 मई से डीएम यात्रा मार्ग और पड़ावों का निरीक्षण करने चीन सीमा पर स्थित अंतिम भारतीय पड़ाव नावीढाग तक जाएंगे। यात्रा के दौरान सुरक्षा का दायित्व सीओ रैंक के पुलिस अधिकारी के जिम्मे होगा।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *