जस्‍टिस काटजू ने Kanhaiya Kumar के लिए कहा, जिसको समझा था खमीरा वह भसाकू निकला

नई दिल्‍ली। जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष Kanhaiya Kumar द्वारा बेगूसराय से लोकसभा का चुनाव लड़ने की खबर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने उनका मजाक उड़ाया है। काटजू ने मजाकिया लहजे में Kanhaiya Kumar को कहा कि वो ‘महान क्रांतिकारी’ होने का दावा करते थे, लेकिन अंत में फुसफुसे साबित हुए। काटजू ने कहा कि उनकी क्रांति का नारा भी माननीय सांसद बनने तक सीमित था।

मार्कंडेय काटजू ने ट्वीट किया, ‘तो महान ‘क्रांतिकारी’ कन्हैया कुमार बेगूसराय से लोकसभा का चुनाव लड़ने जा रहे हैं। जिसको समझा था खमीरा, वो भसाकू निकला।’ खमीरा का अर्थ है बहुत बहादुर व्यक्ति, जबकि भसाकू एक बेहद घटिया किस्म की तंबाकू को कहते हैं। इस तरह इस ट्वीट के जरिए काटजू ने कहा कि कन्हैया ने दावे बड़े बड़े किए थे, लेकिन अंत में निकला कुछ नहीं।

दोहरे बर्ताव पर सवाल
अपनी आलोचनाओं से किसी को भी नहीं छोड़ने वाले काटजू पहले भी कन्हैया कुमार और उनकी उम्र के दूसरे वामपंथी नेताओं के दोहरे व्यवहार पर सवाल उठा चुके हैं। कुछ दिन पहले उन्होंने कहा था, ‘कन्हैया, शेहला राशिद, उमर खालिद, अनिर्बान और जेएनयू के दूसरे बहादुर छात्र, जो चीखते हुए कश्मीर और नार्थ ईस्ट की आजादी की मांग करते हैं, वो कभी बांग्लादेश में हिंदू पुजारियों की निर्मम हत्या और अन्य हिंदुओं पर हमले की निंदा क्यों नहीं करते। क्या ये हिंदू इंसान नहीं हैं।’ उन्होंने कहा, ‘ऐसा लगता है कि जब बांग्लादेश और पाकिस्तान की अल्पसंख्यक हिंदू आबादी पर हमले और अत्याचार की बात आती है तो इन सभी ‘क्रांतिकारी’ छात्रों की सारी बहादुरी गायब हो जाती है।’

महागठबंधन के प्रत्याशी
कन्हैया कुमार जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष हैं और अब बेगूसराय से सीपीआई के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन (आरजेडी, कांग्रेस, हम और एनसीपी) के सहयोग से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। सीपीआई के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी सहित सभी वामदल और महागठबंधन के साथी चाहते हैं कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ें। यह पूछे जाने पर कि क्या कन्हैया कुमार ने बेगूसराय से चुनाव लड़ने को लेकर अपनी सहमति दी है तो सत्यनारायण ने कहा कि इसके लिए वह राजी हैं। कन्हैया बेगूसराय जिला के बरौनी प्रखंड अंतर्गत बिहट पंचायत के मूल निवासी हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »