जूलियन अंसाजे लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से अरेस्ट

लंदन। विकिलीक्स के सह-संस्थापक जूलियन अंसाजे को लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से अरेस्ट कर लिया गया है। बीते 7 सालों से असांजे ने इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी थी। एक यौन उत्पीड़न के केस में स्वीडन में प्रत्यर्पित किए जाने से बचने के लिए असांजे ने दूतावास को अपना ठिकाना बना रखा था। लंदन की मेट्रोपोलिटन पुलिस ने कहा कि फिलहाल असांजे को हिरासत में लिया गया है और उन्हें वेस्टमिन्सटर मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा।
गौरतलब है कि असांजे ने 2010 में बड़ी संख्या में अमेरिकी गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक किया था। असांजे ने स्वीडन में प्रत्यर्पण से बचने के लिए 2012 में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ली थी। बाद में स्वीडन ने असांजे पर से सेक्स अपराध से जुड़े मामले को हटा दिया।
इसके बावजूद असांजे दूतावास में ही बने रहे क्योंकि जमानत का मामला खत्म हो जाने की वजह से लंदन में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटकी रही थी। बीते साल 12 दिसंबर से उन्हें इक्वाडोर की नागरिकता मिली।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »