केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण में बड़ी भूमिका निभा रहा है JSW ग्रुप

प्रधानमंत्री बनने के बाद शुक्रवार को PM मोदी 5वीं बार केदारनाथ गए थे। पहले कार्यकाल के दौरान वह चार बार केदारनाथ गए। दूसरे कार्यकाल में केदारनाथ का यह उनका पहला दौरा था।
साल 2013 की आपदा में पूरी तरह उजड़ चुके केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण में जिंदल घराना बड़ी भूमिका निभा रहा है। जिंदल परिवार की ओर से केदारनाथ को संवारने के खर्च की जिम्मेदारी लेने के बाद ही केन्द्र और राज्य की सरकारों ने केदारनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों को लेकर रुचि दिखानी शुरू की थी।
पीएम ने किया लोकार्पण
प्रधानमंत्री जी ने बाबा केदारनाथ के दर्शन कर आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा के अनावरण के साथ-साथ विकास के अनेक काम का लोकार्पण किया। अब बाबा केदार के दर्शन और आसान होंगे।
देश के मशहूर उद्योगपति सज्जन जिंदल ने इस बारे में एक ट्वीट किया है। सज्जन जिंदल ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर लिखा, “JSW ग्रुप ने शंकराचार्य की समाधि और आदिगुरु श्री शंकराचार्य जी के स्टेचू बनाने को लेकर जो मेहनत की है, उस पर हमें गर्व है। केदारनाथ में आदिगुरु श्री शंकराचार्य की समाधि का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकार्पण किया है, इसके लिए जेएसडब्ल्यू ग्रुप की टीम ने कड़ी मेहनत की है, टीम को इसके लिए बधाई।”
नवीन जिंदल ने कहा, भाई पर है गर्व
इसके बाद उद्योगपति और कांग्रेस नेता नवीन जिंदल ने उनके ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा, “सज्जन जिंदल भैया, आपको और आपकी टीम को बहुत-बहुत बधाई। आपने केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण में जो योगदान दिया है, उसके लिए आप तारीफ के पात्र हैं। आप हम सभी लोगों को प्रेरणा देते हैं कि हमें अपनी विरासत को कैसे संभालना चाहिए।”
बद्रीनाथ में भी करेंगे विकास कार्य
उद्योगपति सज्जन जिंदल ने राज्य सरकार को आश्वस्त किया है कि वह केदारनाथ धाम की तरह बद्रीनाथ धाम में भी पुनर्निर्माण कार्यों के भागीदार बनेंगे। इसके लिए उन्होंने डीपीआर तैयार करने को कहा है। सज्जन जिंदल ने मुख्यमंत्री को बताया है कि उन्होंने राज्य में कोई निवेश नहीं किया है। परंतु इन दोनों धामों के विकास में सहयोगी बनेंगे।
पीएम के संसदीय क्षेत्र की भी जिम्मेदारी
हिंदू धार्मिक मामलों में विशेष रुचि रखने वाले दानदाता की श्रेणी में उद्योगपति अनंत अंबानी, सज्जन जिंदल व महेंद्र शर्मा को उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड में सदस्य बनाया गया है। अरब पति बिजनेसमैन सज्जन जिंदल प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के घाटों को साफ करने का प्रोजेक्ट लेने वाले पहले टाइकून बन गए हैं। जिंदल स्टील वर्क्स फर्म को केंद्र की तरफ से हरिश्चंद्र घाट को साफ और ठीक-ठाक करवाने के लिए करोड़ों रुपए का प्रोजेक्ट मिल गया है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *