Jhnavi ने कहा, अगर ऐक्टिंग का मौका नहीं मिलता तो पागल हो जाती

मुंबई। बोनी कपूर और दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी की बेटी jhnavi कपूर बॉलिवुड में डेब्यू कर चुकी हैं। शशांक खेतान डायरेक्टेड उनकी फिल्म धड़क रिलीज हो चुकी है और तारीफें भी बटोर रही है। फिल्म मराठी फिल्म सैराट का अडॉप्टेशन है और इसमे उनके को-स्टार ईशान खट्टर हैं। लोगों को ईशान-जाह्नवी को जोड़ी पसंद आ रही है और अच्छे रिव्यूज मिल रहे पर फिल्म की शूटिंग इतनी आसान नहीं थी।

फरवरी में श्रीदेवी की मौत के बाद उनके परिवार के लिए काफी मुश्किलभरा समय रहा खासकर उनकी बेटी जाह्नवी और खुशी के लिए। जाह्नवी को अक्सर कहते हुए सुना गया है कि फिल्म की शूटिंग की वजह से उन्हें इस दुख से दिमाग डायवर्ट करने में काफी आसानी हुई थी।
फिल्म रिलीज होने के बाद उन्होंने इस पर खुलकर बात की। हाल ही में उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया, ‘मुझे अभी भी इस बात पर यकीन नहीं हुआ है। बस इतना है कि वक्त नहीं मिला या फिर मैंने खुद को वक्त दिया ही नहीं। हम सभी इस बात को मान ही नहीं पा रहे।’

जाह्नवी आगे बताती हैं, ‘मैं अगले दिन (अंतिम संस्कार के) ही शूट पर जाना चाहती थी लेकिन शूट कैंसिल हो गया।’ जाह्नवी ने यह भी बताया कि अगर काम पर वापस न जाती तो वह मानसिक संतुलन खो देतीं।

jhnavi बताती हैं, ‘सच कह रही हूं कि धड़क न होती, अगर मुझे ऐक्टिंग करना का मौका नहीं मिलता या कैमरा न फेस करना होता तो जीवन में आगे बढ़ना का कोई उद्देश्य न रहता।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »