JDU ने 15 बागी नेताओं को क‍िया 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित

नई द‍िल्ली। पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले 15 नेताओं को जेडीयू (JDU) ने 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया है। जेडीयू ने रामेश्वर पासवान, प्रमोद चंद्रवंशी, अरुण कुमार, तजम्मल खां, अमरेश चौधरी, शिवशंकर चौधरी, सिंधु पासवान, करतार सिंह, राकेश रंजन, ददन पहलवान, सुमित सिंह, भगवान सिंह कुशवाहा, रणविजय सिंह, कंचन गुप्ता और मुंग़ेरी पासवान को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया। पार्टी लाइन का मानना है कि ये नेता पार्टी से बग़ावत कर दूसरे पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। साथ ही कई दूसरी पार्टियों की मदद भी कर रहे हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार का दौर शुरू हो चुका है। महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने भी अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। राजद ने इस सूची में 30 नेताओं को जगह दी है, जिनको बिहार की 243 सीटों पर महागठबंधन और राजद के लिए प्रचार करना है। स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सबसे पहला नाम बिहार के पूर्व सीएम और लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी का है। इसके अलावा उनके परिवार से दोनों बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव और तेज प्रताप यादव समेत डॉक्टर मीसा भारती को भी स्टार प्रचारकों की सूची में जगह मिली है।

डिजिटल प्रचार
बिहार चुनाव 2020  के ल‍िए सभी पार्टियां जोर शोर से मतदाताओं तक पहुंच कर उन्‍हें लुभाने में जुटी हैं. प्रत्‍याशियों का ऐलान हो रहा है. साथ ही अब राजनीति‍क दल डिजिटल माध्‍यम से भी चुनाव प्रचार करने लगे हैं. ऐसा ही एक वीडियो सॉन्‍ग बनाकर बीजेपी ने ट्विटर पर शेयर किया। इसका टाइटल रखा ‘बिहार में ई बा’ मतलब बिहार में यह हुआ। इसमें बिहार में अब तक एनडीए सरकार में हुए विकास कार्यों का दावा किया गया है लेकिन कुछ देर में ही ‘बिहार में ई बा’ वीडियो ट्विटर पर ट्रेंड करने लगाकुछ लोग इसके समर्थन में आए तो कुछ नीतीश कुमार सरकार को घेर रहे हैं। उनके साथ ही तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप यादव भी लोगों के निशाने पर हैं। ‘बिहार में ई बा’ ट्रेंड पर एक यूजर ने लॉकडाउन के दौरान घर लौट रहे बिहार के लोगों की फोटो शेयर कर सरकार पर निशाना साधा।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *