RJD के अंतर्कलह पर जेडी(यू) ने तेजस्वी यादव के नाम लिखा खुला पत्र

पटना। बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के बयान के बाद पार्टी में उभरी अंतर्कलह पर अब विरोधियों ने भी निशाना साधना शुरू कर दिया है। बिहार में सत्ताधारी जेडी(यू) ने बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव से उन नामों को सार्वजनिक करने को कहा है, जिनका उल्लेख उनके भाई तेजप्रताप ने अपने बयान में किया था।
जेडी(यू) नेता नीरज कुमार ने लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के नाम मंगलवार को खुला पत्र जारी कर पूछा है कि RJD में असामाजिक तत्व कौन हैं? नीरज ने अपने पत्र में लिखा है कि यह सच साबित हो गया कि RJD ने राजनीति में ‘लंपटीकरण’ की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि जब यह बातें हम लोग कहते थे तब तेजस्वी और उनके प्रवक्ताओं को तकलीफ होती थी, लेकिन अब तो उनके भाई और राज्य के पूर्व मंत्री ही यह कह रहे हैं।
पत्र में कहा,‘दुष्कर्म के मामले में आरोपी विधायक राजवल्लभ यादव, कई संगीन मामलों में सजायाफ्ता पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के बाद RJD में और कौन असामाजिक लोग हैं, उन्हें आप पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएंगे, यही मांग आपके भाई तेजप्रताप की भी है।’
नीरज ने तेजप्रताप द्वारा RJD के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे के अपमान करने की चर्चा करते हुए कहा कि पूर्वे ऐसे लोगों को बार-बार परख रहे हैं, जिन्हें बिहार की जनता ने ही नकार दिया है। पत्र में कबीर का दोहा, ‘एकही बार परखिये ना वा बारम्बार। बालू तो हू किरकिरी जो छानै सौ बार’ को उद्धृत किया। उन्होंने तेजस्वी पर आरोप लगाया कि आपके ही इशारे पर पूर्वे को अपमानित किया गया है, नहीं तो अब तक तेजप्रताप पर कार्यवाही क्यों नहीं की गई?
गौरतलब है कि दो दिन पहले लालू के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने पार्टी में असमाजिक तत्वों के जमावड़े व अपनी उपेक्षा के आरोप लगाकर पार्टी में मतभेद को सार्वजनिक कर दिया था। उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष पर भी कई आरोप मढ़ दिए थे हालांकि पार्टी के वरिष्ठ नेता ने मतभेद की खबरों से इंकार किया है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »