महिला अपराध पर राज्यसभा में जया बच्चन ने दिखाए सख्त तेवर

नई दिल्‍ली। महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध के मुद्दे पर गुरुवार को राज्यसभा में जया बच्चन के सख्त तेवर देखने को मिले। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री वीरेंद्र कुमार के बयान पर तीखी बहस भी हुई।
दरअसल, संसद के मॉनसून सत्र में जब महिलाओं के खिलाफ अपराध पर चर्चा हो रही थी, तब केंद्रीय मंत्री ने कुछ आंकड़े सामने रखे तो जया बच्चन ने इस पर गहरी नाराजगी जताई। सांसद जया बच्चन ने थॉमसन रॉयटर्स की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भारत को महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे असुरक्षित देश घोषित किया गया है। पहले भारत सातवें पायदान पर था, पर आज यह पहले स्थान पर है, जो काफी शर्मनाक है।
इतना ही नहीं, केंद्रीय मंत्री के जवाब पर जया ने कहा कि आपने 2015 तक के आंकड़े दिए पर 2016, 2017, 2018 में जो कुछ भी हुआ, उसे आप भूल गए हैं। इस पर मंत्री ने कहा कि अभी इन वर्षों के आंकड़े नहीं आए हैं। जया ने कहा कि लड़कियों की तस्करी के मामले तेजी से बढ़े हैं। उन्होंने सरकार से दो सवाल भी पूछे। उन्होंने कहा कि क्या आप कठुआ मामले की रिपोर्ट के बारे में विस्तार से जानकारी दे सकते हैं और क्या सरकार महिलाओं के खिलाफ अपराध पर संसद में श्वेत पत्र पेश करेगी।
इस पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिन आंकड़ों या रिपोर्ट की बात की जा रही है, उसको लेकर भारत सरकार से कोई संपर्क नहीं किया गया था। उसका आधार क्या है, यह स्पष्ट नहीं है। वीरेंद्र कुमार ने अलग-अलग देशों की सरकारों के 2015-16 के आंकड़े सामने रखा। उन्होंने कहा कि एक लाख जनसंख्या पर स्वीडन में 123.1, इंग्लैंड में 121.7, अमेरिका में 38.6, फ्रांस में 37.9 रेप के मामले सामने आए हैं।
मंत्री बोल रहे थे तभी जया बच्चन ने उन्हें रोकते हुए पूछा कि आप क्या करेंगे? जया ने कहा कि यह एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है और आप कह रहे हैं कि आपको पता ही नहीं है। जया ने कहा कि मध्य प्रदेश से हर रोज ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं, आप वहां की बात कीजिए, कठुआ केस पर बात कीजिए। इस पर सदन में हंगामा शुरू हो गया। एक सदस्य ने कहा, ‘भारत का चेहरा गंदा किया गया है क्या करेंगे मंत्रीजी।’

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »