तेजस्वी यादव के आह्वान पर Jantar-Mantar फिर दिखेगी विपक्ष की एकजुटता?

आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों से Jantar-Mantar पहुंचने की अपील की

नई दिल्‍ली। मुजफ्फरपुर कांड के विरोध में आज शनिवार को राजद नेता तेजस्वी यादव के आह्वान पर Jantar-Mantar फिर विपक्ष की एकजुटता दिखेगी, इसे लेकर जहां संशय व्‍यक्‍त किया जा रहा है, वहीं दिल्ली में आयोजित धरना प्रदर्शन को सफल बनाने के लिये आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों से जंतर-मंतर पहुंचने की अपील की है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा ‘दिल्ली के लोगों से अपील है कि हमारी बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिये आज जंतर-मंतर पर शाम पांच बजे जरूर आयें।’ केजरीवाल खुद इस धरने में शामिल होने की सहमति पहले ही दे चुके हैं।

‘भारत माता की बेटियों की सुरक्षा’ की मांग करते हुये जंतर-मंतर पर राजद द्वारा आयोजित धरना प्रदर्शन में तेजस्वी और केजरीवाल के साथ ही अन्य विपक्षी दलों के नेता भी शरीक होंगे। इस दौरान प्रदर्शन के बाद मुजफ्फरपुर सामूहिक बलात्कार कांड की पीड़ित बच्चियों को न्याय दिलाने की मांग करते हुये ‘कैंडिल मार्च’ भी आयोजित किया गया है।

केजरीवाल से पहले तेजस्वी ने भी आज सुबह दिल्ली वालों से प्रदर्शन में शामिल होने का आह्वान किया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था ‘भारत माता की बेटियों की सुरक्षा और प्रतिष्ठा सुनिश्चित करने के लिये दिल्ली वाले आज शाम जंतर मंतर पर एकत्र हों।’

इस धरना प्रदर्शन के जरिए एक बार फिर विपक्ष की एकजुटता देखने को मिल सकती है, क्योंकि तेजस्वी यादव ने केजरीवाल और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत सभी विपक्षी दलों के नेताओं से इस प्रदर्शन में शामिल होने की अपील की है। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्ष हर मुद्दे पर लगातार मोदी सरकार को घेरने की कोशिश कर रहा है और इसके लिए कोई भी मौका वो अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहता।

वहीं, जदयू ने राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल को इस प्रदर्शन से दूरी बनाने की सलाह दी है। जदयू के प्रवक्ता केसी त्यागी का कहना है कि वो ‘मूल्य आधारित राजनीति’ के लिए जाने जाते हैं जबकि लालू यादव की पार्टी जंगलराज और अपराधों के लिए प्रसिद्ध है। इसलिए राहुल और केजरीवाल इस प्रदर्शन से दूरी बना कर रहें।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »