30 सितंबर से आगे बढ़ सकती है ITR फाइलिंग की तारीख

गांधीनगर। इनकम टैक्स विभाग की नई ई फाइलिंग पोर्टल पर आ रही दिक्कत की वजह से आशंका जताई जा रही है कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स विभाग की नई ई-फाइलिंग पोर्टल तैयार करने वाली आईटी कंपनी इंफोसिस को 15 सितंबर तक का वक्त दिया है। इन्फोसिस से तब तक सारी दिक्कतें दूर करने के लिए कहा गया है।
इनकम टैक्स की फाइलिंग
इसका मतलब यह है कि आम लोगों को इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए सिर्फ 15 दिन का वक्त दिया जा रहा है। इसके बाद उन्हें लेट फीस चुका कर इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का मौका दिया जा सकता है। देश में इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले लोगों की संख्या 5 करोड़ से अधिक है और चार्टर्ड अकाउंटेंट्स को लगता है कि सिर्फ 15 दिनों में इनकम टैक्स ई फाइलिंग वेबसाइट से सभी लोगों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना संभव नहीं है।
itr फाइलिंग डेट
इसी वजह से बहुत से एक्सपर्ट को लगता है कि सरकार इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की लास्ट डेट बढ़ा सकती है। चार्टर्ड अकाउंटेंट्स सोसायटी के प्रतिनिधियों ने कहा है कि इनकम टैक्स ई फाइलिंग पोर्टल की मौजूदा स्थिति को देखकर ऐसा लगता है कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग की डेट बढ़ाई जा सकती है। पिछले साल केंद्र सरकार ने आम लोगों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की समय सीमा 4 बार बढ़ाई थी। पहली बार 31 जुलाई से बढ़ाकर इसे 30 नवंबर किया गया था, उसके बाद 30 दिसंबर किया गया था और अंत में लोगों को 10 जनवरी 2021 तक इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की सुविधा दी गई थी।
गौरतलब है कि व्यक्तिगत करदाताओं के लिए वित्त वर्ष 2020-21 (आंकलन वर्ष 2021-22) के लिए आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करने की समय सीमा 30 सितंबर 2021 को खत्म हो रही है जबकि ITR filing देर से या संशोधित आयकर रिटर्न अब 31 जनवरी 2022 तक दाखिल किए जा सकते हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *