लोकसभा चुनाव 2019 के लिए ITBP ने किया सबसे पहले मतदान

लोहितपुर। आगामी लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अरुणाचल प्रदेश में ITBP के सर्विस वोटर्स ने अपने मतदान का इस्तेमाल किया। उत्तर पूर्व के पूर्वी सिरे के दूरस्थ क्षेत्र में स्थित ITBP (भारत-तिब्बत सीमा पुलिस) की इकाई ने 5/4/19 को लोहितपुर, अरुणाचल प्रदेश में गुप्त पोस्टल बैलेट के जरिए अपने वोट डाले।

लोकसभा चुनाव 2019 का पहला वोट शनिवार को अरुणाचल में ITBP के डीआईजी सुधाकर नटराजन ने डाला। लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होना है लेकिन उससे पांच दिन पहले ही उन्होंने पहला वोट डाला। नार्थ-ईस्ट के दूरदराज के इलाकों में स्थित आईटीबीपी की एक यूनिट ने आज पोस्टर बैलेट की मदद से सर्विस वोटिंग शुरू कर दी। आईटीबीपी एटीएस के डीआईजी सुधाकर नटराजन ने पहला वोट डाला।
See Video: 

2019 के लोकसभा चुनाव में सर्विस वोटरों के मतदान की प्रक्रिया सबसे पहले आईटीबीपी ने शुरू की है। आईटीबीपी के उपमहानिरीक्षक सुधाकर नटराजन ने पहला पोस्टल बैलट डाला। उनके बाद दूसरे जवानों ने मतदान किया। आईटीबीपी के सभी केंद्रों पर अब मतदान की प्रकिया शुरू हो गई है। जब सभी केंद्रों पर पूरे वोट पड़ जाएंगे तब उन्हें स्पीड पोस्ट के माध्यम से संबंधित लोकसभा क्षेत्र में भेज दिया जाएगा।

जब मतगणना शुरु होती है तो सबसे पहले इन्हीं वोटों की गिनती की जाती है। आईटीबीपी के मुताबिक, स्वतंत्र भारत के इतिहास में यह पहला अवसर है जब चुनाव आयोग ने व्यापक स्तर पर सर्विस वोटर्स के मतदान के लिए विशेष अभियान चलाया है। इसके लिए सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और परंपरागत मीडिया का भरपूर इस्तेमाल किया गया है।

क्या है सर्विस वोटर ?

अगर कोई व्यक्ति सेना में अपनी सेवा दे रह है या अर्धसैनिक बलों जैसे असम राइफल्स, सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ या किसी भी सैन्य सेवा में है,और देश में या देश से बाहर अपनी सेवा दे रहा है ऐसे लोगों को सर्विस वोटर की श्रेणी में रखा जाता है। इस बार के लोकसभा चुनाव में करीब 30 लाख सर्विस वोटर मतदान करेंगे।
लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को चुनाव होने हैं। इस बार लोकसभा चुनाव सात चरणों में होगा। वहीं 23 मई को नतीजे आएंगे।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »