बलात्‍कार के आरोपी इस्लामी विद्वान का अदालत में कराया गया पीड़िता से सामना

पैरिस। बलात्‍कार के आरोपी इस्लामी विद्वान तारिक रमदान का पीड़िता महिला से फ्रांस की एक अदालत में आठ घंटे से भी ज्यादा समय तक आमना-सामना कराया गया। रमदान सात महीने से हिरासत में है और उसने जमानत के लिए अर्जी दी है। पिछले वर्ष ‘मी टू’ अभियान के तहत रमदान के खिलाफ बलात्कार के आरोप सामने आए थे, जिसके बाद उसे ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर का पद छोड़ना पड़ा था।
अक्सर ही टीवी पर कमेंटेटर के रूप में दिखने वाला रमदान स्विट्जरलैंड का नागरिक है। उसके दादा ने मिस्र में मुस्लिम ब्रदरहुड का गठन किया था। फरवरी में उस पर आरोप लगे थे उसने वर्ष 2009 और 2012 में होटलों में दो महिलाओं का बलात्कार किया। स्थानीय मीडिया में रविवार को आई खबरों के मुताबिक स्विस अभियोजकों ने रमदान द्वारा वर्ष 2008 में जिनेवा के एक होटल में एक महिला का बलात्कार करने के इन आरोपों की जांच शुरू की।
बुधवार को अदालत में उसका आमना-सामना एक अशक्त महिला से कराया गया, जिसने आरोप लगाया है कि रमदान ने वर्ष 2009 में फ्रांस के शहर लियॉन में उस पर हमला किया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »