दाऊद के संपर्क में था इकबाल कासकर

मुंबई। हाल ही में मुंबई में गिरफ्तार किए गए अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर ने शुरुआती पूछताछ में दाऊद के संपर्क में न होने की बात कही थी, लेकिन अब यह जानकारी सामने आ रही है कि उसने दाऊद से फोन के जरिए संपर्क में रहने की बात कबूल कर ली है।
जांचकर्ताओं ने बताया है कि दोनों भाइयों के बीच हाल ही में बर्नर फोन के जरिए बातचीत हुई है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच आखिरी बार बात भिंडी बाजार इलाके में हुसैनी इमारत गिरने के बाद हुई थी। उस इमारत के पास ही कासकर का घर है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि कासकर द्वारा पूछताछ में बताई गई इन बातों में कितनी सच्चाई है, इसका पता जांच के बाद ही चल पाएगा।
सूत्रों के मुताबिक कासकर ने बर्नर फोन और सिम बॉक्स की मदद से दाऊद से बात की है। बर्नर फोन किसी खास काम के लिए तैयार किए जाने वाले फोन होते हैं जिन्हें काम पूरा हो जाने के बाद हटा दिया जाता है। सिम बॉक्स कॉल करने वाले की पहचान छिपाने में मदद करते हैं।
एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि वे लोग वॉइस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल के जरिए कॉल करने के लिए सिम बॉक्स का इस्तेमाल करते थे। इससे सुरक्षा एजेंसियां उनका पता नहीं लगा पाती थीं। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि दाऊद के रिश्तेदार पहचाने जाने से बचने के लिए पाकिस्तान से दुबई बिना पासपोर्ट स्टैंप के आते-जाते थे।
दाऊद के ठिकानों के बारे में पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कासकर ने दाऊद और अनीस के कराची में होने की बात कही है। उसने बताया है कि वह कराची में अब्दुल काजी दरगाह के पीछे एक कोठी में रहता है। उसने बताया है कि उस इलाके में 2-3 हवेलियां हैं जिसमें डी-गैंग के लोग रहते हैं।
कासकर के साथ गिरफ्तार हुई मुमताज के फ्लैट से भी पुलिस को कुछ अहम दस्तावेज मिले हैं। हालांकि, पुलिस का कहना है कि इस जानकारी की पुष्टि होना अभी बाकी है।
-एजेंसी