IPL 2020: चेन्नै सुपर किंग्स का सफर समाप्त

IPL के प्लेऑफ की जंग अब बहुत रोचक हो गई है। राजस्थान रॉयल्स के मुंबई इंडियंस को हराते ही चेन्नै सुपर किंग्स का सफर समाप्त हो गया लेकिन बाकी टीमें अभी दौड़ में हैं। टॉप तीन की टीमें भले ही अपनी जगह को लेकर आश्वस्त हों लेकिन सबसे बड़ी जंग तो चौथे स्थान को लेकर है।
राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई इंडियंस को हराकर अंतिम चार की दौड़ को और रोचक बना दिया है। हालांकि चार बार की चैंपियन टीम के प्लेऑफ में पहुंचने की संभावनाओं पर इससे कोई फर्क नहीं पड़ा है। टीम को अपने बाकी बचे चार मैचों में सिर्फ एक जीतना है और वह प्लेऑफ में पक्की हो जाएगी।
रॉयल्स की टीम हालांकि 10 अंकों के साथ छठे स्थान पर है। वह 14 अंकों के साथ अब भी प्लेऑफ में पहुंच सकती है। रॉयल्स के दो मैच बाकी हैं और अगर वह बाकी दोनों जीत लेती है तो अंतिम चार में पहुंचने की उसकी उम्मीद कायम रहेगी। रविवार को राजस्थान ने मुंबई को हराकर चेन्नै सुपर किंग्स को अंतिम चार की रेस से बाहर कर दिया। आईपीएल के इतिहास में पहली बार चेन्नै सुपर सिंग्स की टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाई है।
बेन स्टोक्स की सेंचुरी की बदौलत राजस्थान की टीम ने हालांकि अपने प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखा है लेकिन अब भी उसके प्लेऑफ का स्थान कोलकाता नाइट राइडर्स, किंग्स इलेवन पंजाब और सनराइजर्स हैदराबाद के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। राजस्थान रॉयल्स के बाकी दो मैच किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ हैं।
किंग्स इलेवन पंजाब पांचवें और कोलकाता नाइट राइडर्स चौथे स्थान पर है। कोलकाता की टीम के तीन मैच बाकी हैं और उसके 12 अंक हैं। प्लेऑफ का स्थान सुनिश्चित करने के लिए उसके लिए बेहतर होगा कि वह तीनों मैच जीते। सोमवार को किंग्स इलेवन और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मुकाबला है। अगर किंग्स इलेवन कोलकाता नाइट राइडर्स को हरा देती है और इसके बाद दोनों टीमें अपने अगले दोनों मैच हार जाती हैं तो राजस्थान रॉयल्स अपने बाकी दो मैच जीतकर प्लेऑफ के लिए क्वॉलिफाइ कर सकती है। क्योंकि राजस्थान रॉयल्स के कुल 14 अंक हो जाएंगे औरर किंग्स इलेवन और कोलकाता के 12-12 अंक होंगे।
सनराइजर्स हैदराबाद का क्या है चांस
सनराइजर्स हैदराबाद की बात करें तो उसके 11 मैचों में 8 अंक हैं। उसके लिए राह थोड़ी मुश्किल है। उसके बाकी तीनों मैच टेबल में टॉप तीन टीमों से हैं। उसे यह तीनों मैच अच्छे अंतर से जीतने पड़ेंगे ताकि रनरेट के आधार पर उसके लिए उम्मीद कायम रहे। अगर हैदराबाद या पंजाब के 14 अंक हो जाते हैं तो रॉयल्स के लिए चांस बहुत कम हो जाएंगे। रॉयल्स का नेट रनरेट -0.505 है और प्लेऑफ में शामिल बाकी टीमों से खराब है। हालांकि उसका मुकाबला सिर्फ कोलकाता नाइट राइडर्स (0.476) से चौथे स्थान के लिए है।
टॉप 3 में शामिल सभी टीमों- मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर- के 14-14 अंक हैं और प्लेऑफ की जगह पक्की करने के लिए उन्हें सिर्फ एक जीत की दरकार है। हालांकि उसके बिना भी वे अंतिम चार में पहुंच सकती हैं लेकिन कोई टीम ऐसा खतरा नहीं लेना चाहेगी।
राजस्थान रॉयल्स के बाकी मुकाबले
30 अक्टूबर- किंग्स इलेवन पंजाब
1 नवंबर- कोलकाता नाइट राइडर्स
सनराइजर्स हैदराबाद के बाकी मुकाबले
27 अक्टूबर- दिल्ली कैपिटल्स
31 अक्टूबर- रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर
03 नवंबर- मुंबई इंडियंस
कोलकाता नाइट राइडर्स के बाकी मुकाबले
26 अक्टूबर- किंग्स इलेवन पंजाब
29 अक्टूबर- चेन्नै सुपर किंग्स
1 नवंबर- राजस्थान रॉयल्स
किंग्स इलेवन पंजाब के बाकी मुकाबले
26 अक्टूबर- कोलकाता नाइट राइडर्स
30 अक्टूबर- राजस्थान रॉयल्स
1 नवंबर- चेन्नै सुपर किंग्स
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *