IOC ने तैयार किया कोरोना वायरस को 99.9 फीसदी नष्‍ट करने वाला स्‍प्रे

सरकारी कंपनी इंडियन ऑयल ने एक ऐसा सर्फेस डिसइंफेक्टेंट स्प्रे तैयार किया है जो 99.9 फीसदी कोरोना वायरस को नष्ट कर देता है। यही नहीं, इसे कपड़े पर स्प्रे कर लेंगे तो उसे 25 बार धोने के बाद भी कोरोना वायरस को मारने में सक्षम होगा।
भारतीय वैज्ञानिकों ने किया है तैयार
इस सर्फेस डिसइंफेक्टेंट को पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय की महारत्न कंपनी इंडियन आयल के वैज्ञानिकों ने तैयार किया है। IOC के डाइरेक्टर आरएंडडी एसएसवी रामकुमार के मुताबिक यह नैनो सिल्वर सर्फेस डिसइंफेक्टेंट है इसलिए यह बेहद पावरफुल है। यह कोविड-19 वायरस समेत तमाम तरीके के जर्म, बैक्टीरिया और वायरस को 99.9 फीसदी तक खत्म कर देता है। यह आम सर्फेस को तो साफ करने में सक्षम है ही, कॉपर, ब्रास, पेटेंड मेटल, वार्निस वाले सर्फेस को वायरस मुक्त कर देता है। इसे कपड़ों पर भी स्प्रे कर सकते हैं।
हैदराबार के सीसीएमबी में हुआ है परीक्षण
एसएसवी रामकुमार ने बताया कि आईओसी के एक्स्ट्रागार्ड स्प्रे का परीक्षण सीएसआईआर के हैदराबाद स्थित सेंटर फोर सेल्यूलर एंड मोलीक्यूलर बायोलॉजी में हुआ है। वहां कोविड-19 के जिंदा वायरस पर इसका परीक्षण किया गया। उस दौरान यह 99.9 फीसदी वायरस को मारने में सक्षम हुआ। इसके के बाद इसका कुछ और जर्म और बैक्टीरिया-वायरस पर भी परीक्षण हुआ। उसमें भी यह खरा उतरा। इसके बाद इसे बाजार में उतार गया है। इस समय यह स्प्रे ई कामर्स पोर्टल ऐमजॉन पर उपलब्ध है।
एक बार स्प्रे करेंगे तो 25 धुलाई तक रहेगा असर
आईओसी से मिली जानकारी के अनुसार इसे कपड़ों पर आराम से उपयोग किया जा सकता है। ऐसा करने पर यदि इस कपड़े के संपर्क में बैक्टीरिया वायरस आता है तो वह नष्ट हो जाता है। यही नहीं, कपड़े को धो देने के बाद भी यह उतना ही प्रभावी रहता है जितना कि पहले था। रामकुमार का कहना है कि कपड़े में एक बार स्प्रे कर दिया जाए तो यह 25 धुलाई के बाद भी कारगर रहता है। कपड़े पर यदि स्प्रे कर दिया जाए तो इसका कोई दाग भी नहीं लगता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *