आज़म खां के ट्रस्ट को गैर-कानूनी मदद करने की जांच हो: राज्यपाल

लखनऊ। प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने पूर्व नगर विकास मंत्री आज़म खां के ट्रस्ट को गैर-कानूनी ढंग से मदद करने के मामले की जांच के लिए प्रदेश के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना को पत्र लिखा है।
राज्यपाल ने कहा है कि कांग्रेस के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के नेता फैसल खां लाला ने उनसे शिकायत की है। इस पर जांच की जानी चाहिए।
मंत्री सुरेश खन्ना को लिखे पत्र में राज्यपाल ने कहा है कि फैज़ल खां लाला ने आरोप लगाए हैं कि रामपुर नगर पालिका के चेयरमैन के संरक्षण में भ्रष्टाचार चरम पर था। तोपखाना बापू माल में सालों से बनी सैकड़ों दुकानों को कमजोर-गरीब आम आदमी को न देकर जौहर यूनिवर्सिटी को आवंटित कर दी गईं। यही नहीं, कस्तूरबा गांधी पक्षी विहार पार्क पर कब्जा कर जौहर ट्रस्ट को हस्तांतरित कर दिया गया।
शिकायत में आरोप लगाए गए हैं कि कूड़ा निस्तारण के लिए प्लांट लगाने के नाम पर पांच करोड़ का भुगतान वर्ष 2015 में किया गया। चार करोड़ की सफाई मशीनों को जौहर विश्वविद्यालय में इस्तेमाल किया गया।
इस सबके अलावा नगर पालिका इलाके के बाहर दो करोड़ रुपये की कीमत का ट्यूबवेल बनाए गए और पानी नगर पालिका क्षेत्र की जनता को नहीं मिला। शिकायत में मांग की गई है कि चेयरमैन व दोषी अधिकारियों के विरुद्ध जांच करवा कर दंडात्मक कार्यवाही कराई जाए।
आजम खां के मीडिया प्रभारी पर गुंडा एक्‍ट, भूमिगत
रामपुर। सपा सांसद आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू के खिलाफ प्रशासन ने गुंडा एक्ट के तहत नोटिस जारी किया है। इस मामले में एक अगस्त को सुनवाई होगी।
कांग्रेसी नेता फैसल लाला को धमकाने के मामले में नामजद मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू फिलहाल भूमिगत हैं। पुलिस ने उनके खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत कार्यवाही करने की संस्तुति प्रशासन से की थी। इसी क्रम में अपर जिलधिकारी वित्त एवं राजस्व राम भरत तिवारी की कोर्ट ने शुक्रवार को शानू को गुंडा एक्ट का नोटिस जारी कर दिया है। इस मामले की सुनवाई एक अगस्त को होनी है। दूसरी ओर धमकाने के एक अन्य मामले में शानू ने सेशन कोर्ट में अंतरिम जमानत याचिका लगाई है, जिस पर शनिवार को सुनवाई होगी।
डीएम ने सरायगेट आरपीएस की जांच के निर्देश दिए
जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने सराय गेट स्थित रामपुर पब्लिक स्कूल की जांच करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए हैं। लोगों ने जिलाधिकारी से शिकायत की है कि वक्फ बोर्ड की जमीन पर बने यतीमखाने की जमीन पर कब्जा कर रामपुर पब्लिक स्कूल बनाया गया है।
सराय गेट स्थित रामपुर पब्लिक स्कूल सांसद मोहम्मद आजम खां का है। शिकायती पत्र में कहा गया है कि वक्फ की जमीन पर बने यतीमखाने की जगह पर केवल यतीमखाना ही बनवाया जा सकता है। इस जगह पर अवैध रूप से स्कूल की इमारत बनाई गई है। इस मामले में जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को जांच के आदेश दिए हैं। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ऐश्वर्या लक्ष्मी ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशासनुसार रामपुर पब्लिक स्कूल के जांच के बाद आख्या जिलाधिकारी को प्रेषित कर दी जाएगी।
जयप्रदा पर टिप्‍पणी के मामले में भी आजम के खिलाफ चार्जशीट
लोकसभा चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी (एसपी) के नेता और रामपुर लोकसभा सीट से सांसद आजम खान ने जया प्रदा पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस मामले में शाहाबाद पुलिस ने आजम खान के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है। बता दें कि हाल ही में आजम खान ने लोकसभा में बहस के दौरान स्पीकर की चेयर संभाल रहीं रमा देवी पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी, जिसके बाद लगातार एसपी नेता की फजीहत हो रही है।
क्या था आजम खान का पूरा बयान?
जया प्रदा का नाम लिए बगैर आजम ने रविवार को रामपुर की एक जनसभा में मौजूद लोगों से पूछा, ‘क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। क्या आप उसे वोट देंगे?’
आजम ने आगे कहा कि आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवेअर खाकी रंग का है।
आजम के बयान की हर तरफ हुई निंदा
इस टिप्पणी के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इसे बेहद अमर्यादित करार दिया था। उधर, आजम के बयान के बाद स्थानीय प्रशासन ने भी मामले में केस दर्ज कर लिया था। सुषमा स्वराज ने आजम के बयान की द्रौपदी के चीरहरण से तुलना करते हुए मुलायम सिंह यादव से कहा था कि भीष्म पितामह की तरह मौन साधने की गलती न करें।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *