Mahavan में ‘इण्टरप्रिटेशन सेन्टर’ का शिलान्यास पत्थर पुन: प्रतिष्‍ठित

Mahavan में  रसखान समाधि के निकट गलियारे में रौंदा जा रहा था ‘इण्टरप्रिटेशन सेन्टर’ के शिलान्यास का पत्थर

महावन। Mahavan स्थित रसखान की तथाकथित समाधि के निकट गलियारे में रौंदे जा रहे 31 अगस्त 2018 को माननीय मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ, सांसद हेमा मालिनी, ऊर्जा मंत्री पं. श्रीकान्त शर्मा, संस्कृति मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी तथा विधायक पूरन प्रकाश की गरिमामयी उपस्थिति में ‘इण्टरप्रिटेशन सेन्टर’ के शिलान्यास का पत्थर बुधवार को लगभग 4 माह पश्चात् प्रतिष्‍ठित किया गया।

Mahavan में शिलान्यास प्रतिष्‍ठा पूजन तथा विधायक पूरन प्रकाश आदि द्वारा नारियल फोड़कर विधि-विधानपूर्वक सम्पन्न हुई।

विधायक पूरन प्रकाश के आमंत्रण पर उपस्थित उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के पूर्व उपाध्यक्ष पद्श्री मोहन स्वरूप भाटिया ने उत्तर प्रदेश तीर्थ विकास परिशद के उपाध्यक्ष शैलजाकान्त मिश्र से हुई वार्ता में बताया कि उन्होंने पूर्व में भी यह कहा था कि यह रसखान समाधि नहीं है और इसकी पत्रावली तत्कालीन जिलाधिकारी वृहस्पति शर्मा के कार्यकाल में उपलब्ध रही है।

पुरातत्त्व विभाग द्वारा लगाये गये बोर्ड में भी यह अंकित है कि रसखान समाधि यमुना के तट पर स्थित है जब कि यमुना यहाँ से कोसों दूर है।

वार्ता के अन्त में उपाध्यक्ष मिश्र ने कहा कि वह आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया से सम्पर्क करेंगे। विधायक पूरन प्रकाश का सुझाव था कि इस सम्बन्ध में पारस्परिक चर्चा कर निष्कर्ष पर पहुँचने का प्रयास किया जाये।

इस अवसर पर मथुरा-वृन्दावन विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष नागेन्द्र प्रताप तथा साहित्यकार अनुपम गौतम भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »