RK Education Hub के शैक्षिक संस्थानों में मना विश्व योग दिवस

मथुरा। शुक्रवार को RK Education Hub के सभी शैक्षिक संस्थानों में विश्व य़ोग दिवस मनाया गया। इस अवसर पर RK Education Hub के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने अपने संदेश में कहा कि भारतीय धर्म और दर्शन में योग का विशेष महत्व है। योग शरीर और मस्तिष्क के बीच सन्तुलन बनाने में भी मदद करता है। योग के नियमित अभ्यास से हम शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह से स्वस्थ रह सकते हैं। डा. अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं और प्राध्यापकों का आह्वान किया कि योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं ताकि हमेशा स्वस्थ और प्रसन्न रह सकें। योग दिवस पर के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में छात्र-छात्राओं को प्राणायाम और विभिन्न आसनों का अभ्यास कराया गया।

राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित राजीव एकेडमी में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर ’’योग से निरोग जीवन’’ पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया इस अवसर पर एकेडमी के निदेशक संग समस्त शिक्षक स्टाफ और कर्मचारियों ने आसन व प्राणायाम किया। संस्थान के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने कहा कि योग क्रिया से हम शरीर के सभी विकारों पर काबू पा सकते हैं। भारत समूची दुनिया का योग गुरु है। हमारे यहां पांच हजार साल पहले से योग के महत्व को स्वीकार्यता मिली हुई है। संस्थान के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने कहा कि योग इंसान की सोच, काम करने का तरीका, संयम तथा सद्भाव सिखाता है। डा. सक्सेना ने कहा कि योग सिर्फ कसरत नहीं है बल्कि यह हमारी जीवन शैली को बदलकर अच्छी तरह से काम करने में मदद करता है। इस अवसर पर राजीव एकेडमी फार टीचर एज्यूकेशन के प्रभारी एस.सी. यादव ने कहा कि योग हमारे आंतरिक शरीर में कुछ सकारात्मक बदलाव लाता है और शरीर के अंगों की प्रक्रिया को नियमित करता है। यदि हमें अपने व्यस्त जीवन में शांत और निरोगी रहना है तो योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा।

के.डी. डेंटल कालेज में प्राचार्य डा. मनेष लाहौरी ने कहा कि योग भारत की प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है। यह मन और शरीर की एकता का प्रतीक है। डा. लाहौरी ने कहा कि मनुष्य के पास रोगों से बचने का विकल्प है। यदि हम अपने व्यस्त जीवन से एक घण्टा भी प्रतिदिन बचाकर योगासन व प्राणायाम करें तो हमारा पूरा दिन आनन्दमय होगा और हम आजीवन बीमारियों से बचे रह सकते हैं। जी.एल. बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस के निदेशक डा. एल.के. त्यागी ने कहा कि जान है तो जहान है का सिद्धान्त योग पर ही आधारित है। योगासन व प्राणायाम से ही स्वस्थ जीवन सम्भव है। राजीव इंटरनेशनल स्कूल के प्राचार्य डा. शैलेन्द्र सिंह ग्रेवाल ने छात्र-छात्राओं को योग के महत्व से अवगत कराया। योग दिवस पर डा. विकास जैन, डा. रमन चावला, मोहम्मह जाहिद, चन्द्रेश दुबे, तनुज अग्रवाल, दीपक सिंह श्रीपाल, प्रखर त्यागी, आशीष कुमार, सतीश चन्द यादव, डा. पी.बी. गोस्वामी, डा. रीना शर्मा, डा. अवधेश अथैया, डा. अम्बिका उपाध्याय, डा. प्रीतिबाला तिवारी, नीलेश चौहान, चन्दना दास, सोनल गुप्ता, सीमा, श्याम सुन्दर शर्मा, मनीष उपाध्याय, दुर्गेश नन्दन पाठक, पवन अग्रवाल, प्रीति श्रीवास्तव, पूजा सक्सेना, मोनिका सिंह, प्रियंका सिंह, पंकज उपाध्याय, गौरव गोस्वामी, सरद सिंह, सुनील कुमार चौहान, तृप्ति शांडिल्य, नेहा शर्मा, शिवानी अग्रवाल, अंकिता अग्रवाल, अंजलि मेहरा, प्रीति शर्मा, अखिलेश गौड़, योगेश तिवारी, संध्या सिंह, डा. डी.बी. समाधिया, अक्षय शर्मा, यतेन्द्र कुमार शर्मा, भुवनेश शर्मा, चन्द्र कुमार मोहविया, पवन कुमार शर्मा, शाहनवाज खान, सुनील कुमार शर्मा, प्रणव कुमार, मयंक दीक्षित, त्रिदेव लवानियां आदि ने प्राणायाम और योगासन किया।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *