एंप्लॉयी के साथ रिश्ते रखने पर Intel ने अपने सीईओ को हटाया

चिप बनाने वाली सबसे बड़ी अमेरिकी कंपनी Intel कॉर्प के चीफ एग्जिक्युटिव ऑफिसर ब्रायन क्रैनिक ने इस्तीफा दे दिया। इससे पहले जांच में पाया गया कि उनका एक एंप्लॉयी के साथ पारस्परिक सहमति का रिश्ता था जो कंपनी की नीति के खिलाफ है। ब्रायन कारोबार एवं राजनीति की दुनिया के उन लोगों में शुमार हो गए हैं जिन्हें अनुचित रिश्ते रखने के मामले में पद से हटना पड़ा है।
दरअसल, सोशल मीडिया पर हैशटैग मीटू (#MeToo) के नाम से चले नारीवादी अभियान में इस तरह के अनुचित यौन रिश्तों के खिलाफ आवाज उठाई जा रही है।
बहरहाल, Intel बोर्ड ने चीफ फाइनैंशल ऑफिसल (सीएफओ) रॉबर्ट स्वान को इंटेरिम सीईओ नामित करते हुए कहा कि पर्मानेंट सीईओ की तलाश शुरू हो चुकी है। इसके लिए कंपनी के अंदर और बाहर के कैंडिडेट्स पर नजर दौड़ाई जा रही है। इंटेल ने एक बयान में कहा, ‘इंटर्नल और एक्सटर्नल काउंसल की ओर से जारी जांच में इंटेल की नॉन-फ्रैटर्नाइजेशन पॉलिसी के उल्लंघन की पुष्टि हुई है जो सभी मैनेजरों पर लागू है।’ इस ऐलान के बाद कंपनी के शेयर 2.4 प्रतिशत टूट गए।
बता दें कि कंपनी बोर्ड को एक हफ्ता पहले बताया गया था कि ब्रायन का एक एंप्लॉयी के साथ सहमतिपूर्ण रिश्ता था। ब्रायन साल 2013 में इंटेल के सीईओ बने थे और उनका रिश्ता इससे पहले ही बना था। एक सूत्र ने बताया कि दोनों के बीच कुछ साल पहले तक यह रिश्ता चला था।
क्रैनिक ने उस वक्त Intel को लीड किया था जब प्रतिस्पर्धी कंपनियां टेक्नॉलजी में उसके दबदबे को कम करने लगी थीं। उन्होंने कई उच्चस्तरीय अधिकारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता भी दिखाया था। अब इंटेल पर्सनल कंप्यूटर और सर्वर से इतर आर्टिफिशल इंटेलिजंस (एआई) और सेल्फ ड्राइविंग कार जैसे क्षेत्रों में करने लगा है जहां एन्विडिया कॉर्प जैसी छोटी कंपनियों का दबदबा है। क्वॉलकॉम इंक मोबाइल चिप मार्केट का लीडर है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »