चार हजार आतंकियों के नाम लिस्‍ट से हटाने पर UNSC को पाक का मासूम जवाब

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान की सरकार का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् UNSC के बताए लगभग 4,000 ‘आतंकवादियों’ को नहीं ढूंढ पा रही है.
यही वजह बताते हुए पाकिस्तान सरकार ने अपनी ‘टेरर वॉच लिस्ट’ से क़रीब 4,000 ‘आतंकवादियों’ के नाम हटा दिए हैं.
रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान ने सुरक्षा परिषद् की मॉनिटरिंग टीम से कहा कि उन्हें इन आतंकवादियों के बारे में ‘पर्याप्त जानकारी’ नहीं मिली थी इसलिए वो इनके ख़िलाफ़ कोई कार्यवही करने में असमर्थ रहा.
अपनी वॉच लिस्ट में से बाक़ी के 3,800 नाम हटाए जाने के बारे में भी पाकिस्तान ने यही दलील दी.
मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फ़ंडिंग की रोकथाम के अंतर्राष्ट्रीय संगठन फ़ाइनैंशियल एक्शन टास्क फ़ोर्स (एफ़एटीएफ़) ने पाकिस्तान को जून 2020 तक ग्रे लिस्ट में बरक़रार रखने का फ़ैसला किया है.
UNSC ने अपनी सैंक्शन लिस्ट में पाकिस्तान के 130 आतंकियों का नाम शामिल किया था लेकिन पाकिस्तान ने इनमें से लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफ़िज़ सईद समेत सिर्फ़ 19 आतंवादियों की मौजूदगी की बात स्वीकार की है.
संयुक्त राष्ट्र की ‘एनालिटिकल सपोर्ट एंड सैंक्शन मॉनिटरिंग टीम’ पाँच दिन के पाकिस्तान दौरे पर थी. पाकिस्तान ने इस टीम से कहा कि उन्हें आतंकवादियों के नामों की जो लिस्ट मिली है उनमें से कइयों की सही जन्मतिथि, राष्ट्रीयता, नेशनल आईडी नंबर, पासपोर्ट नंबर या सही पते का ज़िक्र नहीं है.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *