Shaeed diwas पर इंकलाबी नौजवान सभा ने आयोजित की स्मृति सभा

inkalabi naujawan sabha organized remembrance day on Shaeed diwas
Shaeed diwas पर इंकलाबी नौजवान सभा ने आयोजित की स्मृति सभा

मथुरा। Shaeed diwas पर शहीद-ए-आजम भगतसिंह व उनके क्रांतिकारी साथी  सुखदेव और राजगुरु के 86वें बलिदान दिवस पर आज सूर्योदय के साथ ही इंकलाबी नौजवान सभा के सदस्यों ने डैम्पियर नगर स्थित भगतसिंह की प्रतिमा के सामने एक सभा आयोजित कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए उनके लेखों, पत्रों, निबंधों, अदालत में रिकाॅर्ड किए गए उनके बयानों के माध्यम से उनके विचारों को और भी व्यापक स्तर पर छात्रों, नौजवानों, किसानों व मजदूरों के बीच प्रसारित करने का संकल्प लिया।
सभा को संबोधित करते हुए इंकलाबी नौजवान सभा के नेता संजीव चैधरी ने नौजवानों को जाति-धर्म की राजनीति से किनारा करते हुए, एकताबद्ध हो कर, षिक्षा और रोजगार जैसी बुनियादी माँगों के साथ सरकार को जवाबदेह बनाने का प्रयास करने के प्रति जागरुक किया। मंुबई से आए फिल्मकार अंकुर राय ने क्रांतिकारी गीत ‘‘कौन हैं हम और कहां से हैं आए’’ गा कर सभा को भावुक कर दिया। आइसा नेता योगेष सिंह ने केन्द्रीय विष्वविद्यालयों में पीएचडी और एमफिल की लगातार कम होती सीटों के खिलाफ मुकम्मल कार्यवाही करने के लिए छात्रों का आह्वान किया। एआईएसएफ केे जिला संयोजक रवि उपाध्याय ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर बढ़ते पहरे पर चिंता जताई। संयोजक सौरभ इंसान ने 14 फरवरी के दिन षहीद दिवस घोशित करने की घटना को भगतसिंह की विचारधारा के प्रति नौजवानों को गुमराह करने की साजिष करार दिया तथा क्रांतिकारियों के इतिहास एवं उनकी विचारधारा को आज अत्यंत प्रासंगिक बताते हुए उसके प्रसार पर जोर देने की बात कही। छात्र नेता जीसस ने भी अपने विचार व्यक्त किए।
नौजवानों के अलावा मजदूर नेताओं क्रमषः नषीर षाह एडवोकेट, गफ्फार अब्बास एडवोकेट, ईष्वर प्रसाद चैहान, मधुवन दत्त चतुर्वेदी, षिवदत्त चतुर्वेदी तथा सरल कुमार षर्मा ने भी सभा को संबोधित कर षहीदों को श्रद्धांजलि दी। अंत में भगतसिंह पार्क के अंदर क्रांतिकारी गीत गाते व नारे लगाते हुए सुबह टहलने आए लोगों के बीच पर्चे भी वितरित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *