भारत की GS Lakshmi बनीं पहली महिला मैच रेफरी

नई दिल्‍ली। भारत की GS Lakshmi को आइसीसी ने मैच रेफरी बनाया है। क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब एक महिला को मैच रेफरी बनाया गया है।

आइसीसी ने मंगलवार को जीएस लक्ष्मी को मैच रेफरीज के ICC इंटरनेशनल पैनल में शामिल किया है। 51 वर्षीय जीएस लक्ष्मी भी महिला अंपायर क्लेयर पोलोसेक की तरह मैन्स क्रिकेट में नज़र आएंगी। उनसे पहले इसी महीने क्लेयर पोलोसक पहली बार पुरुष वनडे मैचों का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली महिला अंपायर बनी थीं और अब उनके बाद लक्ष्मी से भी अंतर्राष्ट्रीय खेलों में बेहतर उम्मीद की कामना की जा रही है।

GS Lakshmi ने इससे पहले घरेलू महिला क्रिकेट में साल 2008 और 2009 में आधिकारिक रूप से काम किया था। इसके अलावा जीएस लक्ष्मी तीन महिला वनडे इंटरनेशनल मैच और तीन वुमेन टी20 इंटरनेशल मैचों में मैच रेफरी रह चुकी हैं।

इस सम्मान को पाने के बाद जीएस लक्ष्मी ने कहा है, “आइसीसी के इंटरनेशनल पैनल में शामिल किया जाना मेरे लिए सम्मान की बात है। मैंने बतौर भारतीय क्रिकेटर और मैच रेफरी काफी समय बिताया है। मैं अपने इसी अनुभव को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भुनाउंगी। मैं इस अवसर के लिए आइसीसी, बीसीसीआइ, अपने सीनियर, परिवारीजनों और सहकर्मियों को धन्यवाद कहना चाहती हूं, जिन्होंने मेरा सपोर्ट किया।”

बता दें कि हाल ही में ऑस्ट्रेलियान क्लेयर पोलोसेक ने बतौर महिला किसी पुरुष वनडे क्रिकेट में अंपायरिंग की थी। क्लेयर पोलोसेक ने वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिविजन 2 के फाइनल में फील्ड अंपायरिंग की थी। इस बात को लेकर आइसीसी के सीनियर मैनेजर(अंपायर्स एंड रेफरीज) एडरेन ग्रिफ्थ ने कहा, “हम चाहते हैं कि इस खेल में महिला अधिकारियों को भी उनके मैरिट के आधार पर मौका मिले।”
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »