67 मेडल्‍स के साथ एशियन गेम्स में भारत का अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

भारत ने जकार्ता में हो रहे एशियन गेम्स के 14वें दिन शनिवार को 2 गोल्ड मेडल अपनी झोली में डाल लिए। इसके साथ ही भारत के मेडलों की संख्या 15 गोल्ड और 23 सिल्वर मेडल समेत 67 हो गई है। टूर्नामेंट में 8वें नंबर पर मौजूद भारत का एशियन गेम्स के इतिहास में अब तक का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले भारत ने 2010 में ग्वांगझू में हुए एशियन गेम्स में 65 मेडल हासिल कर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था।
अपने टॉप परफॉर्मेंस की बराबरी भारत ने शुक्रवार को ही कर ली थी। लेकिन शनिवार को बॉक्सर अमित पंघल और फिर ब्रिज में शिवनाथ सरकार एवं प्रणव वर्धन की जोड़ी ने गोल्ड हासिल कर इस आंकड़े को 67 तक पहुंचा दिया। शनिवार को हुए इस मुकाबले में बॉक्सर अमित पंघल ने लाइट फ्लाइवेट 49 किलोग्राम ने गोल्ड मेडल जीत लिया है। अमित ने उज्बेकिस्तान के हसनबॉय दस्तमातोव को हराकर खिताब जीता। दस्तामोव ने 2016 के रियो ओलिंपिक के चैंपियन थे।
एक मुश्किल मुकाबले में 22 साल के भारतीय बॉक्सर ने विरोधी की छवि के सामने हार नहीं मानी और लगातार उज्बेक पहलवान पर हमले करते रहे।
पहले राउंड में दोनों मुक्केबाजों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। पंघल ने हालांकि दूसरे राउंड में काफी तेजी दिखाई। वह लगातार विरोधी बॉक्सर पर हमले कर रहे थे। इस राउंड में भारतीय मुक्केबाज ने दस्मातोव को बैकफुट पर धकेल दिया। दस्मातोव के मुक्के लैंड नहीं हो रहे थे वहीं भारतीय मुक्केबाज के सटीक पंच लगाए।
पिछले साल पंघल दस्मातोव से हैमबर्ग वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में करीबी मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था। उज्बेक पहलवान को रियो ओलिंपिक 2016 में सर्वश्रेष्ठ बॉक्सर करार दिया गया था। टूर्नामेंट में अब तक 123 गोल्ड मेडल के साथ 273 पदक हासिल कर चीन पहले नंबर पर है। वहीं, जापान 70 गोल्ड मेडल जीतकर 194 पदकों के साथ दूसरे पायदान पर है।
रिपब्लिक ऑफ कोरिया 44 गोल्ड मेडल जीतकर 164 पदकों के साथ तीसरे नंबर पर है। पदक तालिका में इंडोनेशिया चौथे, ईरान 5वें और चीनी ताइपे छठे स्थान पर है। उज्बेकिस्तान 16 गोल्ड मेडल्स के साथ छठे स्थान पर है, हालांकि कुल मेडल्स के मामले में वह 63 पदकों के साथ भारत से 4 मेडल पीछे है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »