भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने न्यू जीलैंड से जीता दूसरा वनडे

माउंट माउंगानुई। भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने 3 मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबले में न्यू जीलैंड की महिला टीम को 8 विकेट से हरा दिया। मैच में भारतीय महिला गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बे ओवल मैदान पर न्यू जीलैंड को 44.2 ओवरों में 161 रनों पर ढेर कर दिया। जवाब में भारतीय टीम ने 35.2 ओवर में 2 विकेट खोकर 166 रन बनाते हुए जीत दर्ज की। उसके लिए स्मृति मंधाना ने सबसे अधिक नाबाद 90 और कप्तान मिताली राज ने नाबाद 63 रनों की पारी खेली। इसके साथ ही उसने मेजबान के खिलाफ 2-0 की अजेय बढ़त भी ले ली है। बता दें कि एक दिन पहले ही भारतीय पुरुष टीम ने कीवी टीम के खिलाफ 3-0 की अजेय बढ़त ली है।
162 रनों के आसन लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसे दो रन के टीम स्कोर पर पहला झटका ओपनर जेमिमा रोड्रिगेज के रूप में लगा। उन्हें पेटरसन ने केर के हाथों कैच कराया। जेमिमा खाता नहीं खोल सकीं। टीम स्कोर में अभी 13 रन और जुड़े थे कि तहाहू ने दीप्ति शर्मा (8) को चलता कर दिया। इसके साथ ही टीम का स्कोर दो विकेट पर 15 रन हो गए।
हालांकि, इसके बाद कप्तान मिताली राज और स्मृति मंधाना ने मोर्चा संभाला। इस जोड़ी ने शुरुआत में धीमी बैटिंग की, लेकिन जल्दी ही लय पा लिया और टीम को जीत दिलाकर ही दम लिया। मिताली राज ने एमएस धोनी के अंदाज में विजयी सिक्स लगाया। वह 111 गेंदों में 4 चौके और 2 छक्के की मदद से 63 रन बनाकर नाबाद लौटीं, जबकि स्मृति मंधाना ने 83 गेंदों में 13 चौके और 1 छक्का की मदद से तूफानी नाबाद 90 रन की पारी खेलीं। बता दे कि पहले वनडे में भारत ने 9 विकेट से जीत दर्ज की थी।
न्यू जीलैंड की पारी का रोमांच
इससे पहले भारतीय कप्तान मिताली राज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और उनकी गेंदबाजों ने इस फैसले को सही ठहराया। न्यू जीलैंड के लिए उसकी कप्तान एमी स्टाथवेट ने सबसे ज्यादा 71 रन बनाए। उसकी कोई और बल्लेबाज ज्यादा देर विकेट पर पैर नहीं जमा सकी। अनुभवी गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर सुजी बेट्स (0) को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई।
शिखां पांडे ने सोफी डेविने (7) को आउट कर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। यहां कप्तान ने क्रिज पर कदम रखा लिया था और वह लगातार रन बनाकर स्कोरबोर्ड चालू रखे हुए थीं। लॉरेन डाउन (15) उनका अच्छा साथ देती दिख रहीं थीं, लेकिन 33 के कुल स्कोर पर ही एकता बिष्ट ने उन्हें पविलियन की राह दिखाई। एमेला केर सिर्फ एक रन ही बना सकीं।
मैडी ग्रीन (9) ने एमी का साथ देने की कोशिश की, लेकिन झूलन ने इस साझेदारी को 62 के स्कोर से आगे नहीं जाने दिया। लेह कास्पेरेक (21) के साथ कप्तान ने एक बार फिर टीम का संभालने की कोशिश की और छठे विकेट के लिए 58 रनों की साझेदारी की। दीप्ती शर्मा ने एमी को 120 के कुल स्कोर पर आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा।
कप्तान ने अपनी पारी में 87 गेंदों का सामना किया और नौ चौके मारे। यहां से बर्नाडिने बेजुइडेनहाउट (13) और कास्पेरेक ने टीम के लिए रन बनाए। अंत में ली तेहुहु ने 12 रन जोड़ कर टीम को 150 के पार पहुंचने में मदद की। भारत के लिए झूलन ने तीन विकेट लिए। एकता, दीप्ती, पूनम ने दो-दो विकेट अपने नाम किए। शिखा पांडो को एक विकेट मिला।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »