भारत ने कैनबरा में ऑस्ट्रेलिया से जीता पहला टी20 मैच

कैनबरा। भारतीय टीम ने कैनबरा में दमदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को पहले टी20 में 11 रन से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। भारत ने शुक्रवार को कैनबरा के मनुका ओवल में खेले गए मुकाबले में 20 ओवर में 7 विकेट पर 161 रन बनाए जिसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम 7 विकेट पर 150 रन ही बना सकी। सीरीज का दूसरा टी20 मैच सिडनी में 6 दिसंबर को खेला जाएगा।
ऑस्ट्रेलिया को मिला 162 का टारगेट
भारत ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 161 रन बनाए और मेजबान ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 162 रन का टारगेट मिला। लोकेश राहुल ने सर्वाधिक 51 रन बनाए। उनके अलावा रविंद्र जडेजा ने नाबाद 44 और संजू सैमसन ने 23 रन का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया के पेसर हेनरिक्स ने 4 ओवर में 22 रन देकर सर्वाधिक 3 विकेट झटके जबकि मिशेल स्टार्क ने 2 विकेट लिए।
राहुल की फिफ्टी
ओपनर लोकेश राहुल ने टी20 क्रिकेट में शानदार फॉर्म बरकरार रखते हुए अर्धशतक जमाया। उन्होंने 40 गेंद में 51 रन बनाए। राहुल ने अपनी पारी में पांच चौके ओर एक छक्का लगाया। राहुल ने हेजलवुड को थर्डमैन पर पहला चौका लगाया। इसके बाद जम्पा को कवर ड्राइव पर चौका जड़ा। राहुल ने 37 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया, जो टी20 इंटरनेशनल में उनकी 12वीं फिफ्टी रही।
जडेजा की आक्रामक पारी
ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा की आक्रामक पारी भारत के लिए ‘संकटमोचक’ साबित हुई। जडेजा ने आखिरी ओवरों में जबर्दस्त बल्लेबाजी करते हुए 23 गेंदों में नाबाद 44 रन बनाए जिसमें 5 चौके, 1 छक्का जड़ा। सातवें नंबर पर बल्लेबाजी को उतरे जडेजा ने ऑस्ट्रेलियाई पेसर जोश हेजलवुड के पारी के 19वें ओवर की चौथी गेंद पर सिक्स लगाया और फिर अगली दोनों गेंदों पर चौके जड़े। जडेजा इसी के साथ नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए टी20 इंटरनैशनल में सर्वश्रेष्ठ स्कोर करने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए। हैमस्ट्रिंग की चोट के बावजूद डटकर बल्लेबाजी करते हुए जडेजा ने अंतिम 2 ओवर में 34 रन निकाले।
खास नहीं कर सका मिडिल ऑर्डर
ओपनर शिखर धवन कुछ खास नहीं कर सके और मात्र 1 रन बनाकर मिशेल स्टार्क का शिकार बन गए। संजू सैमसन 15 गेंद में 23 रन बनाकर आउट हुए। मनीष पांडे (आठ गेंद में दो रन) भी सस्ते में पविलियन लौटे। वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले पंड्या और सैमसन पिच की उछाल पर चकमा खा गए। मिशेल स्टार्क ने 34 रन देकर दो विकेट लिए लेकिन डेथ ओवरों में महंगे साबित हुए। शुरुआत में उन्होंने 145 की गति से गेंदबाजी करते हुए शिखर धवन को बोल्ड किया। अनुभवहीन लेग स्पिनर मिशेल स्वेप्सन ने लगातार शॉर्ट गेंदें डालीं लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली (9) का कीमती विकेट भी लिया जो रिटर्न कैच देकर लौटे। राहुल और सैमसन ने हालांकि उनकी गेंद पर छक्के जड़े।
ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने बीच के ओवरों में बनाया दबाव
बीच के ओवरों में लेग स्पिनर एडम जम्पा और हरफनमौला हेनरिक्स ने भारतीयों पर दबाव बनाए रखा। जम्पा ने चार ओवर में 20 रन देकर एक विकेट लिया जबकि हेनरिक्स ने 22 रन देकर तीन विकेट चटकाए। दोनों ने 11वें से 15वें ओवर के बीच रन नहीं बनने दिए। भारत ने 11वें से 15वें ओवर के बीच 22 रन बनाकर तीन विकेट गंवाए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *