संयुक्त राष्ट्र में भारत ने कहा: आतंकवाद का पनाहगार है पाकिस्‍तान, जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा है और रहेगा

न्यूयॉर्क। अमेरिका में एक जनरल डिबेट के तहत भारत ने पाकिस्तान को आतंकवाद को पनाहगार बताते हुए कहा कि जम्मू और कश्मीर भारत का हिस्सा है और रहेगा। संयुक्त राष्ट्र में ‘कल्चर ऑफ पीस’ (शांति की संस्कृति) विषय पर भारत ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों और आतंकी संगठनों के लिए सेफ हैवन बना हुआ है। भारत ने इस्लामाबाद की आलोचना करते हुए कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद को अपनी राष्ट्र नीति का हिस्सा बना चुका है।
संयुक्त राष्ट्र के भारतीय मिशन में मंत्री एस श्रीनिवास ने अपने असरदार भाषण में कहा, ‘मैं अपने पड़ोसी को याद दिला दूं, जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा। यह समय है कि पाकिस्तान भी इसे मानते हुए संबंध सुधारने के लिए काम करे।’
एस श्रीनिवास ने कहा, ‘एक लोकतंत्र के रूप में भारत हमेशा लोगों की पसंद मानता है और इस पर आतंकवादियों और चरमपंथियों को हावी नहीं होने देंगे। हम गांधीजी के अहिंसा के सिद्धातों को मानते हैं और अहिंसा से ही शांति आएगी।’ उन्होंने कहा, ‘हमारा पड़ोसी पाकिस्तान आतंकवादियों के पनाहगार के रूप में जाना जाता है। वह आतंकवाद को राष्ट्र नीति का हिस्सा बनाकर भारत के क्षेत्र पर कब्जा करना चाहता है।’
भारत को दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यता बनाते हुए श्रीनिवास ने कहा कि भारत आध्यात्मिक गुरुओं का घर रहा है और सदियों से शांति के संदेश का प्रचार दुनियाभर में करता रहा है। वेदों के श्लोक, गौतम बुद्ध की शिक्षाओं और महात्मा गांधी का जिक्र करते हुए श्रीनिवास ने कहा, ‘भारत को अपनी विरासत पर गर्व है और हम शांति की स्थापना के लिए प्रतिबद्ध हैं।’
-एजेंसी