Afghanistan के साथ भारत ने किए कई समझौते

नई दिल्‍ली। Afghanistan के विदेश मंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी और भारतीय विदेशी मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए। इस दौरान सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत, अफगानिस्तान के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करता रहेगा। गौरतलब है कि अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी तीन दिवसीय दौरे पर भारत आए हैं।

EAM Sushma Swaraj & Afghanistan Foreign Minister Salahuddin Rabbani witness exchange of agreements. pic.twitter.com/DYzXvniHaC
— ANI (@ANI) September 11, 2017

स्वराज ने कहा कि हम दोनों देश सीमा पार आतंकवाद की चुनौतियों पर काबू पाने में एकजुट रहते हैं। उन्होंने कहा कि ईरान के साथ त्रिपक्षीय सहयोग में चाबहार बंदरगाह के विकास में तेजी लाने के लिए आने वाले हफ्तों में हम अफगानिस्तान में गेहूं की आपूर्ति शुरू करेंगे।

We remain united in overcoming challenges posed by cross border terrorism & safe havens&sanctuaries (of terrorism)to both our countries: EAM pic.twitter.com/uFGJ9C0zgp
— ANI (@ANI) September 11, 2017

वहीं अफगानी विदेश मंत्री ने कहा कि दोनों देश आतंकवाद और हिंसक उग्रवाद से ग्रस्त हैं जो हमें और क्षेत्र की स्थिरता को खतरा देते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे यह स्पष्ट होना चाहिए कि भारत या किसी अन्य देश के साथ हमारी दोस्ती हमारे पड़ोस में दूसरों के साथ दुश्मनी नहीं है। रब्बानी ने कहा कि सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के लिए अफगानिस्तान भारत के साथ खड़ा है।

रब्बानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगे। भारत पहले से ही अफगानिस्तान में 200 करोड़ रुपये के सहयोग कार्यक्रम के तहत काम कर रहा है।

भारत की मदद से अफगानिस्तान में सड़क निर्माण और अस्पतालों का निर्माण किया जा रहा है।

भारत में Afghanistan की पुलिस व सैन्य अधिकारियों को भी विशेष ट्रेनिंग दी जाती है।

-एजेंसी