भारत ने पाकिस्‍तान की सीमा में घुसकर बम बरसाए, तबाह किए PoK के आतंकी ठिकाने, 200 से 300 आतंकवादी मारे

भारत ने पाकिस्‍तान की सीमा में घुसकर बम बरसाए
भारत ने पाकिस्‍तान की सीमा में घुसकर बम बरसाए

नई दिल्ली। पुलवामा आतंकी हमले के 12 दिन बाद भारतीय वायुसेना के पाक के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी ठिकानों पर बड़ी कार्यवाही की खबरें आ रही हैं। न्यूज़ एजेंसी एनएनआई के मुताबिक आज तड़के वायुसेना के मिराज विमानों ने PoK के बालाकोट और चकोटी में जबर्दस्त बमबारी कर आतंकियों के ठिकाने तबाह किए। इस हमले में कितने आतंकी मारे गए हैं, अभी इसकी जानकारी नहीं है लेकिन माना जा रहा है कि 200 से 300 आतंकी इस हमले में मारे गए हैं। बता दें कि यह पहली बार है जब शांतिकाल में भारतीय वायुसेना ने सीमा लांघी है। उधर, पाकिस्तानी सेना भारतीय विमानों के PoK में घुसने की बात तो मान रही है, लेकिन किसी बड़े नुकसान की खबर को खारिज कर रही है।
12 मिराज लड़ाकू विमान ने गिराए 1000 किलोग्राम के बम
न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार भारतीय वायुसेना के करीब 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने सीमा पार आतंकी कैंपों पर हमला किया और उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने अपने सुरक्षाबलों को कार्रवाई के लिए खुली छूट दे दी थी। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि पुलवामा आतंकी हमला के साजिशकर्ताओं को छोड़ा नहीं जाएगा और सेना अपने हिसाब से कार्यवाही करेगी।
पाक सेना के प्रवक्ता ने भारत पर लगाया आरोप
भारत पर सीमा के उल्लंघन का आरोप लगाने वाले ट्वीट में पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर एक ट्वीट में लिखा है कि भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से घुसपैठ की कोशिश की थी। उन्होंने आगे लिखा है कि पाकिस्तानी सेना द्वारा ठीक समय पर प्रभावी जवाब दिया गया। उन्होंने जानकारी दी है कि घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि, भारतीय वायुसेना की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। पुलवामा हमले के बाद दोनों देशों के रिश्तों में तल्खी और बढ़ी है।
गौरतलब है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते लगातार तनावपूर्ण हैं। भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए अपने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है। पाकिस्तान ने कहा है कि भारतीय वायुसेना ने एलओसी का उल्लंघन किया है। जब पाकिस्तानी वायुसेना ने इसके खिलाफ कार्यवाही की तब भारतीय लड़ाकू विमान वापस लौट गए।
पिछले दिनों पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी ने यूएन को चिट्ठी लिखकर भारत के खिलाफ शिकायत की थी। उन्होंने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उनका देश शांति चाहता है जबकि भारत युद्ध उन्माद फैला रहा है। गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे। इसकी जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस हमले का करारा जवाब दिया जाएगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *