सैनिकों की वापसी के बाद भारत-चीन के बीच 10 वें राउंड की मीटिंग कल

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में चीन और भारत के सैनिकों की बुधवार से शुरू हुई अग्रिम मोर्चों से वापसी की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अब दोनों सेनाओं के बीच बचे मसलों को सुलझाने के लिए शनिवार से बातचीत शुरू होगी। ईस्टर्न लद्दाख में शनिवार सुबह 10 बजे भारत और चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की 10 वें राउंड की मीटिंग होगी।
किस किस मसले पर होगी बातचीत
सूत्रों के मुताबिक कमांडर स्तर की इस बातचीत में डेपसांग, हॉट स्प्रिंग और गोगरा एरिया पर बात होगी। बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में देश को जानकारी दी थी कि सेना वापसी के 48 घंटे के भीतर सीनियर कमांडर लेवल की बैठक होगी और और बाकी बचे मुद्दों का हल निकाला जाएगा।
पूर्वी लद्दाख में अब कहां-कहां तैनात हैं दोनों देशों की सेनाएं
समझौते के मुताबिक चीन ने अपनी सेना की टुकड़ियों को अब नॉर्थ बैंक में फिंगर 8 से पूरब की तरफ कर लिया है। वहीं भारतीया सेना की टुकड़ियां फिंगर 3 के पास स्थित स्थायी बेस धन सिंह थापा पोस्ट पर लौट आई हैं।
चीन की हर हरकत पर सेना की पूरी नजर
महीनों तक पूर्वी लद्दाख में सीमा पर गतिरोध बने रहने के बाद चीन ने भले ही अपनी सेनाओं को पीछे कर लिया है और अब वह बातचीत के मेज पर बैठ रहा है, लेकिन भारत उसकी हर हरकत पर नजर बनाए हुए है।
सेना ने दिखाई थीं पीछे जा रहे चीनी सैनिकों की तस्वीरें
भारतीय थल सेना ने पिछले दिनों कुछ छोटे वीडियो और तस्वीरें जारी किए थे। इनमें पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग सो (झील) के आसपास के स्थानों से चीनी सेना अपने सैनिकों की संख्या कम करती और बंकर, शिविर और अन्य सुविधाओं को नष्ट करती दिख रही थी। वीडियो में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) द्वारा कुछ संरचनाओं को समतल करने के लिए बुलडोजर का उपयोग करते हुए भी दिखाया गया था। साथ ही, इसमें चीन के सैनिकों को उपकरण, वाहनों के साथ पीछे हटने की तैयारी करते भी दिखाया गया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *