ब्रिटेन में कोरोना वायरस के “बेकाबू” होने से भारत भी चिंतित, उड़ानों पर रोक

ब्रिटेन में ज़्यादा संक्रामक और “बेकाबू” कोरोना वायरस वेरिएंट मिलने की ख़बर आने के बाद भारत में भी चिंता जताई जाने लगी है और ब्रिटेन से उड़ानों के आने-जाने पर रोक लगाने की माँग के बाद भारत सरकार ने वहां से आने वाली सभी फ्लाइट्स 31 दिसंबर की रात 12 बजे तक के लिए सस्‍पेंड कर दी हैं। यह सस्‍पेंशन 22 दिसंबर की रात 11.59 बजे से लागू होगा।
हालाँकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि इसे लेकर घबराने की आवश्यकता नहीं है और सरकार सतर्क है.
दरअसल, ब्रिटेन में कोरोना वायरस का एक नया प्रकार मिलने के बाद यूरोप के कई देशों ने ब्रिटेन की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है.
इससे पहलेे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की माँग की थी.  दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, “ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया म्यूटेशन मिला है, जो सुपर-स्प्रेडर है. मैं केंद्र सरकार से अपील करता हूं कि ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर तुरंत रोक लगाई जाए.”
वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा, “ब्रिटेन में मिला कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन चिंता का विषय है. केंद्र सरकार को तत्काल कार्यवाही करनी चाहिए और इसे नियंत्रित करने के लिए जल्द योजना बनानी चाहिए. साथ ही ब्रिटेन और दूसरे यूरोपीय देशों से आने वाली सभी उड़ानों को बैन कर देना चाहिए.”
उन्होंने साथ ही कहा, “जब कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था तब हमने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगाने में देरी की थी. जिसकी वजह से मामले तेज़ी से बढ़े.”
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *