स्पोर्ट्स मैनेजर की मांग में भी इजाफा, बना सकते हैं करियर

खेलकूद में अगर आपकी दिलचस्पी है तो आप इसमें भी करियर बना सकते हैं। यह ऐसा फील्ड है जिसकी तेजी से मांग बढ़ रही है।
खेलकूद की बढ़ती लोकप्रियता के मद्देनजर स्पोर्ट्स मैनेजर की मांग में भी इजाफा हुआ है। स्पोर्ट्स मैनेजर एक उभरता हुआ करियर है। इस फील्ड में प्रतियोगिता कम होने के कारण करियर का स्कोप भी काफी है।
​योग्यता
स्पोर्ट्स मैनेजमेंट कोर्स पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा लेवल पर कराए जाते हैं। स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में कोर्स ऑफर करने वाले संस्थानों की भारत में अभी संख्या बहुत कम है। भारत के बाहर बहुत से संस्थान हैं और वहां स्कोप भी बहुत है। पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स करने के लिए ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है। वैसे तो किसी भी स्ट्रीम के कैंडिडेट्स स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में कोर्स कर सकते हैं लेकिन फिजिकल एजुकेशन (पीई) में ग्रेजुएशन हों तो ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है। आप अपनी पसंद के किसी खास स्पोर्ट्स में बैचलर्स इन फिजिकल एजुकेशन (बी पीईडी) कर सकते हैं या अन्य संबंधित कोर्स कर सकते हैं। स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया फिजिकल एजुकेशन में कोर्स कराती है। आप वहां से अपनी पसंद के कोर्स कर सकते हैं।
​स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में क्या काम?
स्पोर्ट मैनेजमेंट में स्पोर्ट मार्केटिंग, फंड जुटाना, प्रमोशन, जनसम्पर्क, स्पोर्ट मैनेजमेंट में एथिक्स, खेल के कानूनी पहलू, योजना बनाना और प्रबंधन करना, स्पोर्ट मैनेजमेंट की समस्याओं का पता लगाना और उनको हल करना होता है। ग्राहकों और खेल के व्यवहार को देखकर किसी खेल के प्रसारण को कैसे डिवेलप किया जाए, यह सब चीजें सिखाई जाती हैं। लॉ, फाइनैंस और इकनॉमिक्स के साथ स्पोर्ट्स मैनेजमेंट अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है।
​सैलरी
स्पोर्ट्स मैनेजर की सैलरी 7 लाख रुपये से लेकर 10 रुपये सालाना तक होती है। अनुभव बढ़ने पर और भी सैलरी मिल सकती है।
कौन-कौन से कोर्स
भारत के कई संस्थानों ने स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में कोर्स शुरू किया है। इसका मकसद फील्ड से जुड़े विभिन्न पहलुओं में खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करना है।
निम्नलिखित तीन कोर्स इस फील्ड में मुहैया कराए जाते हैं…
* स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स
* स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा (पत्राचार/डिस्टेंस एजुकेशन)
* स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »