अगस्ता मामले में बिचौलिया Rajiv Saxena सरकारी गवाह बना

नई दिल्‍ली। अगस्ता वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले में गिरफ्तार बिचौलिया Rajiv Saxena सरकारी गवाह बन गया है। सोमवार को मामले की सुनवाई कर रही दिल्ली की अदालत ने इसकी मंजूरी दे दी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा है कि Rajiv Saxena के बयानों की जांच की गई। पता चला है कि इस मामले में Rajiv Saxena आगे अहम गवाह साबित होगा।

सक्सेना को पिछले हफ्ते ही जमानत मिली
इससे पहले सक्सेना ने अपनी अर्जी में दया की गुहार लगाई थी। घोटाले की जांच कर रही एजेंसी ने भी उसकी याचिका का समर्थन किया था। जज अरविंद कुमार ने सक्सेना के सरकारी गवाह बनने की इजाजत दी। कोर्ट ने पिछले हफ्ते ही उसे मेडिकल ग्राउंड पर जमानत भी दी थी। तब ईडी ने इसका विरोध नहीं किया था।

जनवरी में दुबई से गिरफ्तार हुआ था सक्सेना
राजीव सक्सेना दुबई का कारोबारी है। भारत की अपील के बाद वहां की सुरक्षा एजेंसियों ने उसे 30 जनवरी को घर से गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद सक्सेना को प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया है।

सक्सेना ने डील प्रभावित करने के लिए पैसे दिए
ईडी के मुताबिक, राजीव सक्सेना ने वकील गौतम खेतान के साथ मिलकर 3600 करोड़ रु के हेलिकॉप्टर खरीद में मनी लॉन्ड्रिंग को अंजाम दिया। इस दौरान 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टरों की खरीद प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए कुछ नेताओं, नौकरशाहों और वायुसेना अधिकारियों को रुपए दिए थे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »