रोहित शेखर की हत्या में पत्नी अपूर्वा शुक्ला ने जुर्म कबूला

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के पुत्र रोहित शेखर की हत्या मामले में उनकी पत्नी अपूर्वा शुक्ला को क्राइम ब्रांच टीम ने अरेस्ट कर लिया है। अपूर्वा ने जुर्म  कबूल लिया है, पुलिस पूछताछ में बताया कब, क्यों और कैसे किया पति रोहित शेखर का कत्ल। पुलिस सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि सोमवार(15 अप्रैल) को उत्तराखंड से लौटते वक्त रोहित ने अपनी रिश्ते की भाभी कुमकुम के साथ शराब पी थी। अपूर्वा को कुमकुम और रोहित के रिश्तों पर शुरू से शक था। इस पर जब वह रात करीब 9.30 बजे घर पहुंचा तो अपूर्वा ने उससे पूछा कि तुम कहां थे और किसके साथ शराब पी? तब रोहित ने जवाब दिया कि वह कुमकुम के साथ था, इस पर अपूर्वा को बहुत गुस्सा आया।

इसी बात को लेकर रोहित और अपूर्वा में काफी झगड़ा भी हुआ। फिर रात में करीब एक बजे अपूर्वा रोहित के कमरे में गई और उससे काफी बहस की। दोनों के बीच बहस इतनी बढ़ी कि अपूर्वा ने एक हाथ से रोहित का गला दबाया और एक हाथ से उसका मुंह दबा दिया। इसी सब में रोहित की मौत हो गई।

गौरतलब है कि पुलिस को अपूर्वा के खिलाफ पर्याप्त ठोस सबूत मिले , जिसके बाद ही गिरफ्तारी हुई ।
बताया जा रहा है कि हत्या वाली रात रोहित और अपूर्वा में झगड़ा हुआ था। सबूत मिटाने के लिए अपूर्वा ने मोबाइल फॉर्मेट भी किया था। बता दें कि 16 अप्रैल को रोहित अपने बंगले के कमरे में मृत पाए गए थे। पुलिस ने हत्या की पुष्टि के बाद कई घंटे तक उनकी पत्नी से पूछताछ की थी।
क्राइम ब्रांच के एडिशनल कमिश्नर राजीव रंजन ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की पूरी जानकारी पुलिस मुख्यालय में दोपहर को होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी जाएगी। सूत्र फिलहाल इतना बता रहे हैं कि शुरू में अपूर्वा ने पुलिस को काफी बरगलाने की कोशिश की थी। रोहित के कमरे के बाहर लगे सीसीटीवी की डायरेक्शन भी कुछ इस तरह कर दी गई थी, जिससे पता नहीं चल सके कि कमरे में कौन आ जा रहा है। अपूर्वा के खिलाफ पुख्ता सबूत मिलने के बाद शनिवार को पुलिस ने उनसे 8 घंटे तक लंबी पूछताछ की थी।
सूत्रों का कहना है कि अपूर्वा के बयानों में तालमेल नहीं था, जिसके बाद जांच टीम ने उन पर शिकंजा कसा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ‘इस हत्याकांड को अंजाम देने के साथ इसकी पूरी तैयारी में भी अपूर्वा शामिल थीं। जांच टीम अब अन्य आरोपियों को भी अरेस्ट कर सकती है।’

4 अन्य सहायकों के बयान पर भी जांच टीम को शक
इस मामले में रोहित की पत्नी अपूर्वा के अलावा घर में मौजूद दो सहायकों के बयान भी पुलिस को संदिग्ध लगे थे। सीन रीकंस्ट्रक्शन के दौरान पुलिस ने पाया कि हॉलवे के दो सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे थे। बाद में कैमरे खराब मिले। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आधी रात के बाद अपूर्वा सीसीटीवी में फर्स्ट फ्लोर पर जाती दिखाई दी थीं, जबकि घरेलू सहायकों के मुताबिक वह रात 2:30 बजे तक ग्राउंड फ्लोर पर क्राइम सीरियल देख रही थीं।
पत्नी से रहती थी रोहित की अनबन
रोहित की मौत 15-16 अप्रैल की रात हुई थी। पहले कहा गया कि हार्ट अटैक से मौत हुई, लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला कि मौत गला दबाने से हुई। एम्स में 5 डॉक्टरों की टीम ने पोस्टमॉर्टम किया था। पुलिस के अनुसार नौकर भोला और ड्राइवर से लम्बी पूछताछ की थी, लेकिन शुरू से शक रोहित की पत्नी पर था। नौकर से, रोहित की मां से स्पष्ट हो चुका था कि अपूर्वा और रोहित के बीच रिश्ते अच्छे नहीं थे। अक्सर दोनों में झगड़ा होता था। मामला हाई प्रोफाइल होने से लोकल पुलिस से हटाकर क्राइम ब्रांच को इसे सौंप दिया गया था। रोहित की पिछले साल अपूर्वा से शादी हुई थी। वह पेशे से वकील हैं और सुप्रीम कोर्ट में वकालत करती हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »