गोवा में भी कांग्रेस के सामने वजूद बचाने का संकट

नई दिल्‍ली। लोकसभा चुनाव में हार के सदमे से अभी कांग्रेस उबरी भी नहीं है कि उसे राज्यों से एक के एक बाद एक तगड़े झटके लग रहे हैं। कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस की 13 महीने पुरानी गठबंधन सरकार विधायकों की बगावत से आखिरी सांसें गिन रही है तो 2017 के गोवा विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी कांग्रेस अब वहां वजूद बचाने के लिए संघर्ष कर रही है। उसके विधायकों का आंकड़ा 17 से घटकर 5 पर आ चुका है।
गोवा में कांग्रेस के सामने वजूद का संकट
2 साल पहले कांग्रेस गोवा में सबसे बड़े दल के बावजूद सरकार बनाने से चूक गई थी। 40 सदस्यीय विधानसभा में 17 सीट जीतने के बावजूद कांग्रेस महज 13 सीट जीतने वाली बीजेपी से रणनीति की बिसात पर मात खा गई थी। अब 29 महीने बाद सूबे में कांग्रेस वजूद बचाने के लिए संघर्ष करती दिख रही है। बुधवार को उसके मौजूदा 15 विधायकों में से 10 बीजेपी में शामिल हो गए। इससे पहले, बागी विधायकों ने बुधवार को स्पीकर से मुलाकात की और उनसे विधानसभा में कांग्रेस से अलग सीट अरेंजमेंट की मांग की। 15 जुलाई से गोवा विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »