इमरान ने मोदी को लिखा, चलिए बात करते हैं और सभी मुद्दों का हल ढूंढते हैं

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने पीएम पद की शपथ लेने पर भेजे मोदी की शुभकामनाओं के लिए शुक्रिया अदा करते हुए लिखा कि दोनों देशों के बीच सभी मुद्दों पर बातचीत के जरिए ही समाधान हो सकता है। दोनों देशों की शांति और स्थिरता की पहल के लिए विदेश मंत्रियों की बैठक का प्रस्ताव भी इमरान ने दिया। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने भी ट्वीट कर कहा कि पत्र सकारात्मक सोच के साथ लिखा गया है और हम भारत से भी ऐसे ही जवाब की उम्मीद करते हैं। पत्र में दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी जिक्र किया।
पत्र में इमरान खान ने लिखा, ‘मैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भेजे शुभकामना संदेश के लिए आभार व्यक्त करता हूं। आतंकवाद पर बात करने के लिए पाकिस्तान अभी भी तैयार है। व्यापार, जनता से जनता का संपर्क, धार्मिक यात्राएं और मानवता कुछ ऐसे मुद्दे हैं जिन पर चर्चा के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। भारत और पाकिस्तान दोनों शांति की इच्छा रखते हैं और इसके लिए मैं विदेश मंत्रियों की वार्ता का प्रस्ताव रखता हूं।’
पाकिस्तान के विदेश मंत्री मखदूम शाह महमूद कुरैशी और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को न्यू यॉर्क में संयुक्त राष्ट्र की जनरल असेंबली में होनेवाली मुलाकात से पहले बैठक करनी चाहिए।’ पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया, ‘पीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जवाब दिया है, एक सकारात्मक मंशा के साथ, उनकी भावना को समझते हुए। चलिए बात करते हैं और सभी मुद्दों का हल ढूंढते हैं। हम भारत से भी सकारात्मक संदेश की उम्मीद कर रहे हैं।’
पत्र में इमरान खान ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का जिक्र करते हुए कहा कि दिवंगत प्रधानमंत्री दोनों देशों के बीच बातचीत के पक्षधर थे। वाजपेयी सार्क को भी एक अधिक मजबूत और प्रभावी संस्था बनाने में यकीन रखते थे। इमरान ने पत्र के आखिरी में यह भी लिखा कि वह दोनों देशों की जनता के बेहतर भविष्य की उम्मीद में जवाब की प्रतीक्षा कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी को जवाब दिया है, एक सकारात्मक सोच के साथ, उनकी (पीएम मोदी) भावना को समझते हुए। चलिए बात करते हैं और सभी मुद्दों को सुलझाते हैं। हम भारत की तरफ से औपचारिक जवाब का इंतजार कर रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »